संसद के मॉनसून सत्र के तीसरे दिन लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगा लिया. राहुल के इस अंदाज से सत्ता और विपक्ष के साथ- साथ खुद पीएम मोदी भी हैरान रह गए. हालांकि, बीजेपी का कोई नेता इसे बचपना बता रहा है तो कोई नौटंकी.इस बारे में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू का कहना है कि यह सब राहुल का नाटक है. इसमें कुछ नहीं था. कोई मतलब नहीं था. उनके भाषण में भी कोई दम नहीं था. उस पर कोई चर्चा करने की बात नहीं है. बेमतलब वह बोले उनके अंदाज में कुछ नहीं था.वहीं, मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह का कहना है कि राहुल का अंदाज हमेशा बदला ही रहता है. हर वक्त अलग ही रहते हैं. प्रधानमंत्री से क्यों मिले यह वही जानते हैं, लेकिन उनका स्वागत है अगर अच्छे संस्कार किसी की वजह से भी आ रहे हैं तो वह भी अच्छी बात है उनके भाषण में कोई दम नहीं था.किरण खेर ने भी राहुल के मोदी से गले मिलने को नौटंकी बताया. उन्होंने कहा कि राहुल नौटंकी करना बेहद अच्छी तरह जानते हैं. इसलिए मुद्दों को छोड़कर वो मोदी से गले मिलने चले गएबीजेपी सांसद राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि राहुल ने जिस तरह मोदी को गले लगाया. इससे यह प्रतीत होता है कि कांग्रेस भी एक नौटंकी के अलावा कुछ नहीं है. वहीं, हरसिमरत कौर ने इसे कॉमेडी शो बताया.उधर, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर राहुल के विंक को शानदार बताया. उन्होंने लिखा कि, ” क्या विंक मारा है राहुल ने. सीधे बीजेपी के दिल में लगा है. सच को सबके सामने लाने के लिए राहुल को बधाई.”समाजवादी पार्टी के रेवती रमन सिंह ने भी राहुल के गले मिलने के अंदाज की तारीफ की. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी परिपक्व खिलाड़ी हैं, ये इसे साबित करता है.

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.

Lok Shakti

FREE
VIEW