कलेक्टर ने मल्टीएक्टिविटी सेंटर, - Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

 कलेक्टर ने मल्टीएक्टिविटी सेंटर,

1 7

कलेक्टर श्री अजीत वसंत ने आज ग्राम कोचवाही स्थित आजीविका गतिविधि केन्द्र (गौठान), ग्राम केरलापाल में कृषि विज्ञान केन्द्र तथा सुपगांव में निर्माणाधीन नवोदय विद्यालय का गहन निरीक्षण करने के साथ संबंधित अधिकारियों को विभिन्न निर्देश दिये। इस क्रम में कलेक्टर सर्वप्रथम कोचवाही स्थित आजीविका गतिविधि केन्द्र पहुंचे और केन्द्र में ग्रामीण स्वरोजगार एवं आजीविका संबंधित चल रही विभिन्न गतिविधियों की जानकारी ली। ज्ञातव्य है कि जिला प्रशासन नारायणपुर के सहयोग एवं मार्गदर्शन में ग्राम कोचवाही में मावली मल्टीएक्टिविटी सेंटर की स्थापना की गयी है। सेंटर में रोजगारोन्नमुखी विविध कार्य एवं स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा व्यवस्थित ढंग से किया जा रहा है। वर्तमान में उक्त सेंटर में फुट प्रोसेसिंग युनिट में लगभग 30 स्थानीय महिलायें काम कर रहे हैं, जिनके द्वारा प्रारंभिक स्तर पर स्वास्थ्यवर्धक 23 उत्पाद तैयार किये जा रहे है। विभिन्न जिलों में विक्रय किये जा रहे इन सभी उत्पादों का लैब टेस्ट भी कराया गया है। इन उत्पादों में महुआ कुकिस, रागी कुकिस, इमली, गुड़, कोदो-कुटकी कुकिस, ब्लैस राईस, ब्राउन राईस, रेड राईस, कोदो-कुटकी राईस, कुल्थी दाल, अचार, शहद, चेकर टाईल्स, लड्डू आदि प्रमुख है। इस मौके पर कलेक्टर ने कहा कि यहां से निर्मित उत्पादों की मार्केटिंग के लिए बेहतर रणनीति बनाने की जरूरत है। ताकि कार्यरत महिलाओं को अधिकाधिक लाभ मिले।
        इसके साथ ही कलेक्टर श्री वसंत ने केरलापाल स्थित कृषि विज्ञान केन्द्र पहुंचकर उन्नत किस्म के फलों और सब्जी उत्पादन इकाई, पोषण वाटिका, चारा उत्पादन इकाई, मशरूम उत्पादन केन्द्र, मत्स्यपालन, कुक्कुटपालन, मछली सह बतख पालन तथा उन्नत नस्ल के गाय एवं बकरी पालन केन्द्र, केचुआ खाद उत्पादन केन्द्र का भी अवलोकन किया। यहां उपस्थित प्रगतिशील कृषकों से चर्चा के दौरान कलेक्टर ने कहा कि कृषि में आधुनिक कृषि यंत्रों के समावेश से समय एवं श्रम की लागत में कमी आती है और आधुनिक जरूरतों को देखते  हुए धान की खेती के अलावा अन्य लाभकारी अपरम्परागत फसलों में भी कृषकों को ध्यान केन्द्रित किया जाना उचित होगा। इस दौरान केन्द्र के अधिकारियों ने कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा स्थानीय कृषकों को लाभान्वित किये जा रहे विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी।
        जवाहर नवोदय विद्यालय सुपगांव में पहंुचकर कलेक्टर ने प्रयोगशाला, शयनशाला, भोजन कक्ष तथा प्रशाधन कक्षों का निरीक्षण करते हुए अधिकारियों से कहा कि नवोदय भारत सरकार की महत्वपूर्ण संस्थाओं में से एक है। इसके स्तर अनुरूप निर्माण कार्य होना चाहिए और गुणवत्ता का पूरा-पूरा ध्यान रखा जाना सुनिश्चित करें। इस मौके पर उपस्थित प्राचार्य ने कलेक्टर से सौर ऊर्जा संयंत्र लगाने का आग्रह किया। इसके लिए कलेक्टर ने क्रेडा विभाग के अधिकारियों निर्देशित किया। इस मौके पर कलेक्टर श्री वसंत ने नवोदय  विद्यालय परिसर में आम वृक्ष का रोपण भी किया। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री देवेश कुमार ध्रुव सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।