संस्कृत विद्यालयों के शिक्षकों को साहित्य, - Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

 संस्कृत विद्यालयों के शिक्षकों को साहित्य,

8 3

प्रदेश में संचालित संस्कृत विद्यालयों के शिक्षकों को व्याकरण, साहित्य, वेद, दर्शन, धर्म शास्त्र, ज्योतिष सहित संस्कृत के व्यावसायिक पाठ्यक्रम का पांच दिवसीय प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम श्री दूधाधारी वैष्णव संस्कृत विद्यालय मठपारा रायपुर में 2 जनवरी से 6 जनवरी तक आयोजित हो रहा है। प्रशिक्षण में प्रदेश के संस्कृत विद्यालयों से 98 शिक्षक एवं शिक्षिकाएं प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। 
     छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् के अध्यक्ष डॉ. सुरेश शर्मा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि प्रशिक्षण में पूर्व मध्यमा (हाई स्कूल) एवं उत्तर मध्यमा (हायर सेकेण्डरी) कक्षाओं के लिए व्याकरण, साहित्य, वेद, दर्शन, धर्म शास्त्र, ज्योतिष सहित संस्कृत के व्यावसायिक पाठ्यक्रम के पौराहित्यम्, ज्योतिषशास्त्रम्, प्रवचनम्, आयुर्वेद एवं योग दर्शन विषयों पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यह प्रशिक्षण छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् के सदस्य डॉ. तोयनिधि वैष्णव, डॉ. राघवेन्द्र शर्मा, डॉ. रामकिशोर मिश्र, डॉ. संतोष तिवारी, आचार्य सुरेश, डॉ. आराधना कण्डे, सुश्री महंगी पैकरा, आचार्य मनेश्वर, श्री ललित शर्मा और श्री बी.पी. तिवारी आदि विशेषज्ञों द्वारा दिया जा रहा है। 
    प्रशिक्षण कार्यक्रम का संयोजन सचिव छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् श्रीमती पूर्णिमा पाण्डेय, सहायक संचालक श्री लक्ष्मण प्रसाद साहू, व्याख्याता डॉ. गरिमा ताम्रकार द्वारा किया जा रहा है।