Lucknow: अवैध यजदान अपार्टमेंट जमींदोज करने की कार्रवाई शुरू, एलडीए ने आठ माह के बाद दोबारा शुरू की कार्रवाई - Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

Lucknow: अवैध यजदान अपार्टमेंट जमींदोज करने की कार्रवाई शुरू, एलडीए ने आठ माह के बाद दोबारा शुरू की कार्रवाई

Lucknow: अवैध यजदान अपार्टमेंट जमींदोज करने की कार्रवाई शुरू, एलडीए ने आठ माह के बाद दोबारा शुरू की कार्रवाई

प्रतीकात्मक तस्वीर

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

एलडीए ने आठ माह बाद दोबारा प्राग नरायन रोड हजरतगंज स्थित अवैध यजदान अपार्टमेट पर दोबारा छेनी-हथौड़ा चलाकर उसे जमींदोज करने का सिलसिला शुरू कर दिया है। मुंबई की कंपनी को दिए गये इस कार्य के ठेके के कर्मचारी जब ध्वस्तीकरण की कार्रवाई करने के लिए अपार्टमेंट परिसर में प्रवेश करने लगे तो मालिकानों के विरोध का सामना भी करना पड़ा।

बसपा नेता फहद यजदान के द्वारा एलडीए के इंजीनियरों एवं अफसरों की मिलीभगत से नजूल की जमीन पर साल 2015 में इस अपार्टमेंट को बनाने का सिलसिला शुरू किया गया था। लगभग सात साल तक चले काम के दौरान कई जोनल प्रवर्तन अफसरों और इंजीनियरों ने खूब माल काटा।

ये भी पढ़ें – मैनपुरी उपचुनाव: प्रोफेसर रामगोपाल यादव बोले- शिवपाल सिंह हमारे साथ, डिंपल दर्ज करेंगी बड़ी जीत

ये भी पढ़ें – रायबरेली की घटना पर मायावती बोलीं- यूपी में दलितों पर अत्याचार की घटनाएं आम, सरकार सख्त कदम उठाए

इस अपार्टमेंट का मानचित्र पास न होने के बाद भी छह मंजिल तक बनकर तैयार हो गईं। 30 मार्च को जोन छह के तत्कालीन प्रवर्तन अफसर राजीव कुमार ने इसे तोड़ने की शुरुआत की थी। उधर, मालिकान एवं अन्य लोग इस प्रकरण की शिकायत करने मंडलायुक्त डॉ. रोशन जैकब के पास भी पहुंचे। 

50 कामगार ने संभाली तोड़ने की कमान
सोमवार सुबह करीब 11:30 बजे एलडीए अफसरों की मौजूदगी में कंपनी के 50 कामगारों ने यजदान अपार्टमेंट को तोड़ने की कमान संभाली है। इन कर्मियों की सुरक्षा केलिए भारी पुलिस बल ने चौतरफा डेरा डाल रखा है।

विस्तार

एलडीए ने आठ माह बाद दोबारा प्राग नरायन रोड हजरतगंज स्थित अवैध यजदान अपार्टमेट पर दोबारा छेनी-हथौड़ा चलाकर उसे जमींदोज करने का सिलसिला शुरू कर दिया है। मुंबई की कंपनी को दिए गये इस कार्य के ठेके के कर्मचारी जब ध्वस्तीकरण की कार्रवाई करने के लिए अपार्टमेंट परिसर में प्रवेश करने लगे तो मालिकानों के विरोध का सामना भी करना पड़ा।

बसपा नेता फहद यजदान के द्वारा एलडीए के इंजीनियरों एवं अफसरों की मिलीभगत से नजूल की जमीन पर साल 2015 में इस अपार्टमेंट को बनाने का सिलसिला शुरू किया गया था। लगभग सात साल तक चले काम के दौरान कई जोनल प्रवर्तन अफसरों और इंजीनियरों ने खूब माल काटा।

ये भी पढ़ें – मैनपुरी उपचुनाव: प्रोफेसर रामगोपाल यादव बोले- शिवपाल सिंह हमारे साथ, डिंपल दर्ज करेंगी बड़ी जीत

ये भी पढ़ें – रायबरेली की घटना पर मायावती बोलीं- यूपी में दलितों पर अत्याचार की घटनाएं आम, सरकार सख्त कदम उठाए

इस अपार्टमेंट का मानचित्र पास न होने के बाद भी छह मंजिल तक बनकर तैयार हो गईं। 30 मार्च को जोन छह के तत्कालीन प्रवर्तन अफसर राजीव कुमार ने इसे तोड़ने की शुरुआत की थी। उधर, मालिकान एवं अन्य लोग इस प्रकरण की शिकायत करने मंडलायुक्त डॉ. रोशन जैकब के पास भी पहुंचे। 

50 कामगार ने संभाली तोड़ने की कमान

सोमवार सुबह करीब 11:30 बजे एलडीए अफसरों की मौजूदगी में कंपनी के 50 कामगारों ने यजदान अपार्टमेंट को तोड़ने की कमान संभाली है। इन कर्मियों की सुरक्षा केलिए भारी पुलिस बल ने चौतरफा डेरा डाल रखा है।