हवाई सेवाओं के विस्तार के साथ ग्वालियर-चंबल अंचल के उत्पाद विश्व भर में पहुँचेंगे - Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

हवाई सेवाओं के विस्तार के साथ ग्वालियर-चंबल अंचल के उत्पाद विश्व भर में पहुँचेंगे

50 7

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने कहा है कि ग्वालियर में देश के अत्याधुनिक हवाई अड्डे के निर्माण से जहाँ हवाई सेवाओं का विस्तार होगा वही कार्गो टर्मिनल के निर्माण से पूरे विश्व में ग्वालियर एवं चंबल अंचल के लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योगों के उत्पादों का आयात – निर्यात हो सकेगा। इससे रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे और इससे आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ेंगी। ग्वालियर-चंबल अंचल का तेजी से विकास होगा। केन्द्रीय गृह मंत्री श्री शाह रविवार को ग्वालियर में लगभग 446 करोड़ रूपए की लागत से राजमाता विजयाराजे सिंधिया एयर टर्मिनल नवीन भवन एवं हवाई अड्डे के विस्तार कार्य का शिलान्यास, नल-जल योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास तथा प्रधानमंत्री आवास योजना के गृह प्रवेश समारोह को संबोधित कर रहे थे। समारोह की अध्यक्षता मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने यज्ञ कराए हैं जिससे मध्यप्रदेश लगातार सुर्खियों में है…केन्द्रीय गृह मंत्री ने माहौल को खुशनुमा बनाते हुए कहा कि लगता है मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने यज्ञ कराए हैं, जिससे पिछले कुछ दिनों से मध्यप्रदेश लगातार देश की सुर्खियों में बना हुआ है। पिछले दिनों प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भारत के सांस्कृतिक पुररूत्थान की कड़ी में प्राचीन सांस्कृतिक नगरी उज्जैन में “श्री महाकाल लोक” का लोकार्पण किया है। साथ ही 130 करोड़ जनता की ओर से महाकाल की पूजा – अर्चना कर देश की खुशहाली की कामना की है।

केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान सहित अन्य अतिथियों ने रिमोट से पट्टिका का अनावरण कर एयरपोर्ट विस्तार कार्य का शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री ग्रामीण और शहरी आवास योजना में जिले के 1458 हितग्राहियों को गृह प्रवेश कराया। मंच से प्रतीक स्वरूप ग्राम जखारा निवासी श्री हरेन्द्र सिंह भगौरिया और महलगाँव निवासी श्रीमती सीमा सक्सेना को आवास की चाबियाँ भी सौंपी। केन्द्रीय गृह मंत्री ने जल जीवन मिशन में 4300 करोड़ रूपए लागत की नल-जल योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण भी किया।

श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने ग्वालियर के सुनियोजित विकास के लिये एयरपोर्ट के रूप में बड़ी सौगात दी है। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बड़ी बारीकी से अत्याधुनिक हवाई अड्डे के निर्माण की रूपरेखा तैयार की है। हमें भरोसा है कि ग्वालियर का नया हवाई अड्डा देश के सबसे अच्छे हवाई अड्डे के रूप में स्थापित होगा।

केन्द्रीय गृह मंत्री श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में चहुँमुखी विकास के साथ भारत का सांस्कृतिक उत्थान भी हो रहा है। देश में प्रधानमंत्री आवास योजना में हर गरीब के घर का सपना साकार हो रहा है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में मध्यप्रदेश सरकार प्रधानमंत्री श्री मोदी की मंशा के अनुरूप तेज गति से योजना में जरूरतमंदों के लिये घर बनवा रही है। राज्य सरकार “हर घर नल से जल” कार्यक्रम में गरीब से गरीब के घर में नल से जल पहुँचाने के लिये पूरी प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है। सड़क निर्माण की रफ्तार पहले से तीन गुना से भी ज्यादा हो गई है। इसी तरह पहले एक साल में मात्र 375 किलोमीटर रेल लाईन डल पाती थी, अब हर साल 1458 किलोमीटर रेल लाईन बिछाई जा रही हैं। सरकार ने कृषि बजट को 27 हजार करोड़ से बढ़ा कर एक लाख 24 हजार करोड़ कर दिया है।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि कठिन कोरोना काल को ध्यान में रख कर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरकार ने ढाई साल तक देश की 80 करोड़ जरूरतमंद जनता को मुफ्त राशन उपलब्ध कराने का काम किया है। सरकार ने देशवासियों को कोरोना वैक्सीन के 224 करोड़ नि:शुल्क टीके भी लगवाए हैं। श्री शाह ने अपने उदबोधन में शिवाजी महाराज और मराठा वीर महादजी सिंधिया की वीरता को नमन किया। उन्होंने राजमाता स्व. विजयाराजे सिंधिया और कुशाभाऊ ठाकरे का भी स्मरण किया।

आज का दिन स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाएगा – मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में आज का दिन स्वर्ण अक्षरों में लिखा जायेगा। आज जहाँ प्रदेश में हिन्दी में मेडिकल की पढ़ाई शुरू करने की ऐतिहासिक एवं क्रांतिकारी शुरूआत हुई हैं वहीं ग्वालियर में अत्याधुनिक एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के एयर टर्मिनल भवन और हवाई अड्डे के विस्तार की अधारशिला रखी गई। मुख्यमंत्री ने यह सौगातें देने के लिये सम्पूर्ण प्रदेशवासियों की ओर से केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह का आभार माना। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मेडिकल की पढ़ाई हिन्दी में शुरू होने से गरीब एवं निम्न मध्यम वर्ग के बच्चों की जिंदगी में नया सवेरा आयेगा। वहीं ग्वालियर में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के हवाई अड्डे के निर्माण से विकास के नए आयाम स्थापित होंगे। उन्होंने कहा एलीवेटेड रोड का निर्माण, एक हजार बिस्तर का अस्पताल, अंतर्राज्यीय बस स्टेण्ड, नवीन स्टोन पार्क, चंबल से ग्वालियर एवं मुरैना को पेयजल की आपूर्ति योजना सहित अनेक सौगातें मिल रही हैं। प्रधानमंत्री ने हाल ही में ग्वालियर-चंबल अंचल के श्योपुर जिले के कूनो-पालपुर अभयारण्य को चीते सौंपे हैं, जिससे मध्यप्रदेश अब टाइगर स्टेट के साथ चीता स्टेट भी हो गया है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हाल ही में हुई अतिवृष्टि से जिन किसानों की फसलों को नुकसान पहुँचा है, उसका सर्वे राहत मुहैया कराई जायेगी। प्रधानमंत्री के हर घर के सपने को मध्यप्रदेश पूरा करेगा और आगे आने वाले साल में प्रदेश में कोई भी गरीब बिना घर के नहीं रहेगा। आजादी के अमृत काल में हम आत्म-निर्भर भारत के साथ आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश का निर्माण भी कर रहे हैं।

डबल इंजन की सरकार के साथ दो और अतिरिक्त इंजन ग्वालियर के विकास में लगे हैं

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश के विकास में जहाँ केन्द्र और राज्य की डबल इंजन सरकारें जुटी हैं वहीं ग्वालियर के विकास में इन डबल इंजन के साथ केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री तोमर एवं केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सिंधिया के रूप में दो और इंजन काम कर रहे हैं। इससे ग्वालियर के विकास में नित नए आयाम स्थापित हो रहे हैं।

प्रधानमंत्री आर्थिक सशक्तिकरण के साथ देश का वैभव भी बढ़ा रहे हैं : केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर

केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी गरीब लोगों के आर्थिक सशक्तिकरण के साथ देश को वैभवशाली बनाने के काम में जुटे हैं। गरीब आदमी भी हवाई यात्रा कर सके, इस उद्देश्य से उन्होंने उड़ान योजना शुरू की है। इसी सोच के साथ आज ग्वालियर में नए एयरपोर्ट टर्मिनल विस्तारीकरण की आधारशिला रखी गई है। उन्होंने केन्द्रीय गृह मंत्री से ग्वालियर के साडा क्षेत्र में सीमा सुरक्षा बल द्वारा आरक्षित कराई गई जमीन पर बीएसएफ की गतिविधियों को आगे बढ़ाने का आग्रह भी किया।

आधुनिक और ग्वालियर की सांस्कृतिक विरासत का संगम होगा नया एयर टर्मिनल: केन्द्रीय मंत्री श्री सिंधिया

केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि आज ग्वालियर में केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह विकास एवं तरक्की का नया पैगाम लेकर आए हैं। उन्होंने आज ग्वालियर में जिस भव्य एयर टर्मिनल भवन एवं एयरपोर्ट विस्तार की आधारशिला रखी है। यह जब बन कर तैयार होगा तब उसमें ग्वालियर की सांस्कृतिक और ऐतिहासिक विरासत की झलक भी दिखाई देगी। इससे ग्वालियर क्षेत्र के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। श्री सिंधिया ने कहा कि लगभग 180 एकड़ क्षेत्र में करीबन 500 करोड़ की लागत से नए एयर टर्मिनल एवं हवाई अड्डे का विस्तार होगा। व्यस्ततम समय में इस अत्याधुनिक हवाई अड्डे पर 1400 यात्रियों के प्रबंधन की क्षमता रहेगी। पहले से उपलब्ध तीन एप्रन को बढ़ा कर 13 किया जा रहा है। साथ ही कार्गो टर्मिनल का भी निर्माण होगा। उन्होंने कहा कि ग्वालियर से बैंगलुरू के लिये जल्द ही हफ्ते में एक दिन बोइंग विमान सेवा मिलने जा रही है। साथ ही ग्वालियर और मुम्बई के बीच हफ्ते में चार दिन के लिये 15 नवम्बर से यह सेवा शुरू होगी। उन्होंने केन्द्रीय गृह मंत्री से साडा क्षेत्र में बीएसएफ की एक बटालियन का मुख्यालय स्थापित करने और आईटीबीपी की के जवानों के लिये सपोर्ट वेपन ट्रेनिंग सेंटर स्थापित करने का आग्रह किया।

प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर और सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने भी संबोधित किया। आरंभ में सभी अतिथियों ने एयरपोर्ट टर्मिनल की होलोग्राफिक 3डी डिजाइन देखी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने साफा एवं अंग वस्त्र भेंट कर केन्द्रीय गृह मंत्री श्री शाह का स्वागत किया। ग्वालियर के एक जिला एक उत्पाद में शामिल सेंड स्टोन से निर्मित मानसिंह महल की प्रतिकृति स्मृति-चिन्ह के रूप में गृह मंत्री को भेंट की। सचिव केन्द्रीय नागर विमानन मंत्रालय श्री राजीव बंसल ने आभार माना।

समारोह खजुराहो सांसद श्री वी.डी. शर्मा, गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र जिले के प्रभारी मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट सहित राज्य सरकार के मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, श्री गोविंद सिंह राजपूत, श्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया, श्री अरविंद भदौरिया, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री भारत सिंह कुशवाह, राज्य मंत्री श्री ओपीएस भदौरिया, श्री बृजेन्द्र सिंह यादव एवं श्री सुरेश धाकड़ सहित विधायक, जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में नागरिक मौजूद रहे।