सपा मतलब श्री अखिलेश यादव श्रीमती डिंपल यादव प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी... केशव मौर्य का करारा हमला - Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

सपा मतलब श्री अखिलेश यादव श्रीमती डिंपल यादव प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी… केशव मौर्य का करारा हमला

सपा मतलब श्री अखिलेश यादव श्रीमती डिंपल यादव प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी... केशव मौर्य का करारा हमला

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और सपा मुखिया अखिलेश यादव के बीच ट्विटर वार थम नहीं रहा है। उपमुख्यमंत्री केशव ने एकबार फिर मौका मिलते ही समाजवादी पार्टी व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर जोरदार हमला बोल दिया है। केशव मौर्य ने कहा कि सपा का मतलब श्री अखिलेश यादव श्रीमती डिंपल यादव प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बताया है।

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ‘मैनपुरी कमल का फूल’ हैशटैग के साथ ट्वीट करते हुए लिखा सपा का न वर्तमान न भविष्य, मुलायम सिंह यादव जी को नमन मैनपुरी में खिलेगा कमल। इस ट्वीट में केशव ने सपा का मतलब बताते हुए लिखा सपा मतलब श्री अखिलेश यादव श्रीमती डिंपल यादव प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी।

सपा को परिवार के बाहर से प्रत्याशी नहीं मिल रहे- केशव
इतना ही नहीं केशव प्रसाद मौर्य ने अपने दूसरे ट्वीट में परिवारवाद का जिक्र करते हुए बताया कि सपा में आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव हुआ तो धर्मेन्द्र यादव और मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव है तो डिंपल यादव चुनाव लड़ेंगी। उन्होंने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा को परिवार के बाहर से प्रत्याशी नहीं मिल रहे हैं।

डिंपल को सपा ने दिया है टिकट
दरअसल सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई मैनपुरी लोकसभा सीट पर उपचुनाव होना है, सपा ने इस सीट से नेताजी की बड़ी बहू व अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को उम्मीदवार घोषित किया है। वहीं डिंपल यादव को प्रत्याशी बनाने की घोषणा होने के बाद से ही बीजेपी ने समाजवादी पार्टी व अखिलेश यादव को आड़े हाथों ले लिया है। इसको लेकर कन्नौज से सांसद सुब्रत पाठक पहले ही सपा पर अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दे चुके है। वहीं अब उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी ट्वीट कर करारा हमला बोल दिया है।

Mainpuri By Polls : “मेरी पत्नी चुनाव नहीं लड़ेंगी” कहने वाले अखिलेश ने अब डिंपल को मैनपुरी से क्यों उतारा?

इनपुट- अभय सिंह