मुलायम की तबीयत, लखीमपुर कांड की पहली बरसी, भदोही पंडाल आग… यूपी उत्तराखंड की इन खबरों पर रहेगी नजर – Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

मुलायम की तबीयत, लखीमपुर कांड की पहली बरसी, भदोही पंडाल आग… यूपी उत्तराखंड की इन खबरों पर रहेगी नजर

मुलायम की तबीयत, लखीमपुर कांड की पहली बरसी, भदोही पंडाल आग... यूपी उत्तराखंड की इन खबरों पर रहेगी नजर

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के पितामह मुलायम सिंह यादव नाजुक स्थिति में मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती हैं। भदोही में दुर्गा पंडाल में आग लगने की घटना में कई लोगों की मौत हुई है। झुलसे लोगों का इलाज चल रहा है। 20 लोगों को बीएचयू रेफर किया गया है। लखीमपुर के तिकुनिया में किसानों को गाड़ी से कुचलने और उसके बाद हुई हिंसा की घटना की आज पहली बरसी है। वहीं इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में छात्रों का प्रदर्शन जारी है। आइए, सोमवार को यूपी और उत्तराखंड की प्रमुख खबरों के बारे में जानते हैं।

मेदांता में भर्ती हैं मुलायम यादव
लखनऊः उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की हालत अचानक बिगड़ गई है। सांस लेने में तकलीफ के बाद उन्हें मेदांता के आईसीयू में भर्ती किया गया है। फिलहाल, वह वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखे गए हैं। खबर सुनकर अखिलेश यादव, डिंपल यादव, शिवपाल यादव समेत पूरा समाजवादी कुनबा दिल्ली पहुंच गया है। इसके साथ ही दिल्ली से लेकर लखनऊ तक मुलायम सिंह यादव के लिए प्रार्थनाओं का दौर शुरू हो गया है।

भदोही में दुर्गा पंडाल में आग
भदोही के औराई स्थित नारथुआ में दुर्गा पंडाल में आरती के समय भीषण आग लगने से पूरा पंडाल जलकर खाक हो गया। इस दौरान 52 श्रद्धालु जहां झुलस गए हादसे में झुलसे 12 साल के एक लड़के की मौत हो गई है। कुछ अन्य के मौत की भी खबर है। प्रारंभिक जांच में आग लगने की वजह शार्ट सर्किट बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि आग घटना शॉर्ट सर्किट के कारण लगी थी। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

लखीमपुर कांड की पहली बरसी
लखीमपुर खीरी के तिकुनिया मोड़ पर 3 अक्टूबर 2021 को घटी घटना की बरसी से पहले लखीमपुर खीरी में हलचल तेज हो गई है। यहां किसान नेता राकेश टिकैत के लखीमपुर पहुंचने की उम्मीद है। तिकुनिया गुरुद्वारा में बरसी का आयोजन होगा। किसान आंदोलन को लेकर पिछले साल 3 अक्टूबर को प्रदर्शनकारी किसानों पर एसयूवी चढ़ा दी गई थी। इसके बाद भड़की हिंसा में 3 भाजपा कार्यकर्ता और एक पत्रकार की हत्या कर दी गई। इस हादसे का जिम्मेदार केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को मुख्य आरोपी बनाया गया है।

%d bloggers like this: