Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

बाबू जगजीवन राम छात्रावास योजना के अंतर्गत सुधरेगी छात्रावास की स्थिति

समाज कल्याण विभाग द्वारा अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों के लिए जनपद हरदोई के मन्नापुरवा में वर्ष 1982 में राजकीय अनुसूचित (बालक) छात्रावास का निर्माण किया गया था, जिसके अन्तर्गत कुल स्वीकृत क्षमता 48 छात्रों के लिए आवासीय सुविधा उपलब्ध है। वर्तमान में छात्रावास की मरम्मत एवं समुचित देख-भाल के लिए बाबू जगजीवन राम छात्रावास योजना के अन्तर्गत भारत सरकार द्वारा संचालित योजना से बजट की व्यवस्था की जा रही है। उक्त योजना के अन्तर्गत अनुसूचित जाति के छात्रों को प्रोत्साहित एवं गुणवत्तापरक शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए छात्रावास निर्माण, मरम्मत एवं समुचित देख-भाल के लिए धनराशि उपलब्ध करायी जाती है, जिसके अन्तर्गत उत्तर प्रदेश में नवीन छात्रावास के निर्माण हेतु प्रत्येक छात्र पर रूपया तीन लाख एवं नवीन छात्रावास निर्माण की स्थिति में रूपया पाँच हजार प्रति विद्यार्थी की दर से छात्रावास संचालन सम्बन्धी सामान्य सुविधाएं यथा कुर्सी, मेज, टेलीविजन, कम्प्यूटर एवं किचन सम्बन्धी उपकरणों हेतु व्यय किया जा सकता है । वर्तमान में संचालित छात्रावास की मरम्मत हेतु रूपया 5.00 लाख की धनराशि मुहैया करायी जाती है, जिस हेतु सम्बन्धित विभाग द्वारा प्रस्ताव भारत सरकार को प्रेषित किये जाने का प्रावधान है ।
जनपद हरदोई के मन्नापुरवा स्थित राजकीय अनुसूचित जाति (बालक) छात्रावास के मरम्मत एवं पुनरूद्धार हेतु समाज कल्याण विभाग द्वारा भारत सरकार को प्रस्ताव प्रेषित किये जाने के निर्देश श्री असीम अरूण,  राज्यमंत्री (स्वतन्त्र प्रभार), समाज कल्याण द्वारा दिये गये है, जिससे मन्नापुरवा स्थित राजकीय अनुसूचित जाति (बालक) छात्रावास में आधारभूत सुविधाएं सुनिश्चित की जायेगी। आवासीय छात्रों हेतु वाचनालय, वाहन स्टैण्ड, किचन सम्बन्धी सुविधाएं, रंगाई-पुताई एवं शौचालय मरम्मत जैसी आवश्यक व्यवस्थाएं पूर्ण की जायेगी ।
श्री असीम अरूण, राज्य मंत्री, समाज कल्याण ने अवगत कराया कि बाबू जगजीवन राम छात्रावास योजनान्तर्गत जनपद हरदोई के मन्नापुरवा स्थित राजकीय अनुसूचित जाति (बालक) छात्रावास की आधारभूत व्यवस्थाओं के सुदृढ़ीकरण एवं मरम्मत हेतु जनपद से प्रस्ताव प्राप्त कर भारत सरकार को प्रेषित किया जाएगा एवं राज्य सरकार की निधि से मरम्मत व फर्नीचर मद में तत्काल धनराशि उपलब्ध कराई जा रही है, जिससे छात्रावास में मानक के अनुरूप उच्च स्तरीय आवासीय सुविधाएं उपलब्ध करायी जायेगी एवं छात्रों को गुणवत्तापरक शिक्षा का माहौल प्रदान किया जायेगा ।

%d bloggers like this: