Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ ने वर्ष 2021-22 के लिए शैक्षणिक छात्रवृत्ति योजना हेतु प्रस्ताव मंगवाए

छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ द्वारा संचालित शिक्षा प्रोत्साहन योजना के तहत वर्ष 2021-22 के लिए शैक्षणिक छात्रवृत्ति योजना हेतु सभी प्राथमिक लघु वनोपज सहकारी समिति के माध्यम से प्रस्ताव मंगवाए गए हैं। सभी प्रस्ताव मिलने के बाद पात्र छात्र-छात्राओं को ऑनलाइन माध्यम से छात्रवृत्ति का भुगतान किया जाएगा। योजना के तहत बीते तीन सालों में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ के माध्यम से 22 हजार से अधिक मेघावी छात्र-छात्राओं को 20 करोड़ 10 लाख 56 हजार 500 रूपए की छात्रवृत्ति प्रदान की गई।

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज संघ द्वारा मेघावी छात्र-छात्राओं के लिए, प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं के लिए और व्यवसायिक कोर्स हेतु छात्रवृत्ति तथा गैर व्यवसायिक स्नातक कोर्स हेतु अनुदान योजना संचालित की जा रही है।

वर्ष 2018-19 से 2020-21 तक 8493 मेघावी छात्रों को दो करोड़ 71 लाख 53 हजार रूपए की छात्रवृत्ति प्रदान की गई है। इसी तरह पिछले तीन सालों में 8898 प्रतिभाशाली छात्रों को 14 करोड़ 85 लाख 71 हजार 500 रूपए की छात्रवृत्ति दी गई है। इसके अतिरिक्त 3877 गैर व्यवसायिक छात्रों को 2 करोड़ 10 हजार रूपए की छात्रवृत्ति प्रदान की गई है। इसी तरह गैर व्यवसायिक स्नातक कोर्स हेतु 734 छात्रों को 53 लाख 22 हजार रूपए प्रदान किए गए हैं। इस प्रकार राज्य सरकार द्वारा पिछले तीन सालों में 20 करोड़ 10 लाख 56 हजार 500 रूपए प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं को शिक्षा प्रोत्साहन योजना के तहत प्रदान किया गया है। वर्ष 2020-21 में कोरोना महामारी के कारण 10वीं की परीक्षा नहीं होने से इसे जीरो ईयर घोषित किया गया।

प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं हेतु शिक्षा प्रोत्साहन योजना के तहत प्रत्येक प्राथमिक वनोपज सहकारी समिति क्षेत्र में हर साल तेंदूपत्ता संग्राहक परिवार के बच्चों में से कक्षा 10वीं में 75 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को 15 हजार रूपए एवं कक्षा 12वीं में 75 प्रतिशत या उसके अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को 25 हजार रूपए की राशि दी जा रही है।

%d bloggers like this: