Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

जुलाई, 2021 के सापेक्ष जुलाई, 2022 में प्रवेश सरकार के मुख्य कर करेत्तर राजस्व वाले मदों में रु0 1318.97 करोड़ की वृद्धि

प्रदेश के वित्त मंत्री श्री सुरेश कुमार खन्ना ने बताया कि प्रदेश के मुख्य कर करेत्तर राजस्व वाले मदों में वित्तीय वर्ष 2022-23 के जुलाई माह में कुल रू0 13974.82 करोड़ का राजस्व प्राप्त हुआ जबकि वर्ष 2021-22 के जुलाई माह में रू0 12655.85 करोड़ का राजस्व प्राप्त हुआ था। इस प्रकार गत वर्ष माह जुलाई की तुलना में वर्तमान वित्तीय वर्ष के माह जुलाई में रू0 1,318.97 करोड़ अधिक राजस्व प्राप्त हुआ है।
वित्त मंत्री ने बताया कि जी०एस०टी० के अन्तर्गत माह जुलाई 2022 में कुल रू0 5043.90 करोड़ की राजस्व प्राप्ति हुई, जबकि गत् वर्ष जुलाई, 2021 के माह में प्राप्ति रू0 4697.99 करोड़ थी। माह जुलाई, 2022 में निर्धारित जी0एस0टी0 में राजस्व प्राप्ति लक्ष्य रू0 6452.55 करोड़ के सापेक्ष 78.2 प्रतिशत की प्राप्ति हुई है। वैट के अन्तर्गत माह जुलाई, 2022 में रू0 2535.32 करोड़ की राजस्व प्राप्ति हुई, जबकि गत् वर्ष माह जुलाई 2021 में प्राप्ति रू0 2328.34 करोड़ थी। इस मद में माह जुलाई, 2022 में निर्धारित लक्ष्य रू0 3080.66 करोड़ के सापेक्ष 82.3 प्रतिशत की प्राप्ति हुई है।
श्री खन्ना ने बताया कि आबकारी के अन्तर्गत माह जुलाई, 2022 में कुल रू0 3260.84 करोड़ की राजस्व प्राप्ति हुई जबकि गत वर्ष माह जुलाई, 2021 में प्राप्ति रू0 2795.49 करोड़ थी। आबकारी मद में माह जुलाई, 2022 में राजस्व प्राप्ति लक्ष्य रू0 4666.52 करोड़ के सापेक्ष 69.9 प्रतिशत की प्राप्ति हुई है। इसी प्रकार स्टाम्प तथा निबन्धन के अन्तर्गत माह जुलाई, 2022 की राजस्व प्राप्ति रू0 2285.42 करोड़ हैं जबकि गत् वर्ष माह जुलाई 2021 में प्राप्ति 2089.9 करोड़ थी। इस मद में माह जुलाई, 2022 में प्राप्ति लक्ष्य रू0 3197.80 करोड़ के सापेक्ष 71.5 प्रतिशत की प्राप्ति हुई है। उन्होंने बताया कि परिवहन के अन्तर्गत माह जुलाई 2022 की राजस्व प्राप्ति रू0 694.74 करोड़ है, जबकि गत् वर्ष माह जुलाई, 2021 में प्राप्ति रू0 612.07 करोड़ थी। परिवहन मद में माह जुलाई, 2022 में राजस्व प्राप्ति लक्ष्य रू0 870.97 करोड़ के सापेक्ष 79.80 प्रतिशत की प्राप्ति हुई है। उन्होंने बताया कि करेत्तर राजस्व प्राप्ति की प्रमुख मद भू-तत्व तथा खनिकर्म के अन्तर्गत माह जुलाई, 2022 में प्राप्ति रू0 154.60 करोड़ है जबकि गत् वर्ष माह जुलाई 2021 में प्राप्ति रू0 132.67 करोड़ थी। इसके अन्तर्गत माह जुलाई, 2022 में राजस्व प्राप्ति लक्ष्य रू0 267.30 करोड़ के सापेक्ष 57.8 प्रतिशत की प्राप्ति हुई है।
वित्त मंत्री ने बताया कि मुख्य कर राजस्व के अन्तर्गत जी0एस0टी0 के अन्तर्गत माह जुलाई, 2022 तक राजस्व प्राप्ति के निर्धारित लक्ष्य रू0 31,789.33 करोड़ के सापेक्ष रू0 22,086.08 करोड़ की प्राप्ति हुई है, जो निर्धारित लक्ष्य का 69.5 प्रतिशत है। वैट के अन्तर्गत वर्तमान वित्तीय वर्ष 2022-23 के जुलाई माह तक निर्धारित लक्ष्य रू0 9530.53 करोड़ के सापेक्ष रू0 9002.35 करोड़ की प्राप्ति हुई है, जो निर्धारित लक्ष्य का 94.5 प्रतिशत है। इसी प्रकार आबकारी के अन्तर्गत निर्धारित लक्ष्य रू0 18823.62 करोड़ के सापेक्ष रू0 12974.32 करोड़ की प्राप्ति हुई है, जो 68.9 प्रतिशत है। स्टाम्प तथा निबन्धन के अन्तर्गत माह जुलाई, 2022 तक निर्धारित लक्ष्य रू0 10,528.70 करोड़ के सापेक्ष रू0 8,362.24 करोड़ की प्राप्ति हुई है, जो निर्धारित लक्ष्य का 79.4 प्रतिशत है। इसी प्रकार परिवहन के अन्तर्गत वर्तमान वित्तीय वर्ष के जुलाई माह तक राजस्व प्राप्ति के लक्ष्य रू0 3,619.96 करोड़ के सापेक्ष रू0 2,911.59 करोड़ की प्राप्ति हुई है, जो निर्धारित लक्ष्य का 80.4 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि करेत्तर राजस्व की प्रमुख मद भूतत्व एवं खनिकर्म के अन्तर्गत वर्तमान वित्तीय वर्ष के माह जुलाई तक राजस्व प्राप्ति के लक्ष्य रू0 1,360.80 करोड़ के सापेक्ष रू0 891.60 करोड़ की प्राप्ति हुई है, जो निर्धारित लक्ष्य का 65.5 प्रतिशत है।
श्री खन्ना ने बताया कि उत्तर प्रदेश में पेट्रोल एवं डीजल पर लगने वाले प्रति लीटर वैट की दर देश के अन्य राज्यों की तुलना में कम हैै। वर्तमान में प्रदेश में पेट्रोल पर वैट रू0 15.08 प्रति लीटर एवं डीजल पर वैट रू0 12.76 प्रति लीटर है। उन्होेंने कहा कि कोरोना काल में आर्थिक गतिविधियाँ प्रभावित हुई। प्रदेश में आर्थिक गतिविधियों का प्रबन्धन बेहतर रहा, जिसका परिणाम है कि आज प्रदेश की आर्थिक गतिविधियाँ निरन्तर बेहतर हो रही हैं।

%d bloggers like this: