Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

Lucknow News: पेट्रोल के पास पहुंचा सीएनजी, 7 महीने में 24 रुपये की बढोत्तरी… पीएनजी भी 19 रुपये महंगा

Lucknow News: पेट्रोल के पास पहुंचा सीएनजी, 7 महीने में 24 रुपये की बढोत्तरी... पीएनजी भी 19 रुपये महंगा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में एक बार फिर सीएनजी और पीएनजी के मूल्य में बढ़ोत्तरी हुई है। इसका असर लोगों की जेब पर पड़ना तय है। सीएनजी भी पेट्रोल और डीजल के लिए साथ आकर खड़ा हो गया है। लखनऊ में पेट्रोल की कीमत 96.57 रुपये और डीजल की कीमत 89.76 रुपये प्रति लीटर दर्ज की गई। ऐसे में सीएनजी डीजल को पार कर चुका है। 31 जुलाई को कीमत बढ़ने के बाद एक अगस्त को राजधानी लखनऊ में 96.10 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से मिला। वहीं, पीएनजी की कीमत 56.20 रुपये प्रति किलोग्राम दर्ज की गई।

यूपी में रविवार को सीएनजी और पीएनजी के दामों में बढ़ोतरी कर महंगाई का झटका दे दिया। सीएनजी 5 रुपये तो पीएनजी की दरों में 4.75 रुपये प्रति किलोग्राम की बढ़ोतरी हुई है। घरेलू गैस और पेट्रोल डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों की मार झेल आम आदमी को सीएनजी और पीएनजी की दरों ने एक बार फिर बोझ डाल दिया। सीएनजी की कीमतों पर गौर करें तो पिछले 7 महीने में 24 रुपये की बढ़ोत्तरी हुई है। वहीं, पीएनजी में 19 रुपये की बढ़ोत्तरी हुई है।

लखनऊ सहित पांच शहरों में सीएनजी और पीएनजी की आपूर्ति करने वाली ग्रीन गैस लिमिटेड ने रविवार को सीएनजी की दरों में 5 रुपये की बढ़ोतरी हो गई है। लखनऊ में अब सीएनजी 96.10 रुपये प्रतिकिलो मिलेगी। पीएनजी की कीमतों में 4 रुपये की बढ़ोतरी के बाद 56.20 रुपये प्रति क्यूबिक स्टैंडर्ड मीटर मिलेगी। लगातार अंतरराष्ट्रीय कीमतों के बढ़ने के कारण दरों में इजाफा किया जा रहा है। सीएनजी की दरों में बढ़ने का असर दिख रहा है।

निजी कंपनियों ने और टैक्सी चालकों ने किराए में बढ़ोतरी कर दी है। निजी वाहनों में सीएनजी का इस्तेमाल करने वाले भी मुश्किल में पड़ गए हैं। सीएनजी की तरह ही एलपीजी के दाम भी लगातार बढ़ रहे हैं। सीएनजी की कीमतों पर गौर करें तो पाएंगे कि 18 दिसंबर 2021 को 72.50 रुपये प्रति किलोग्राम थी। 31 जुलाई को मूल्य वृद्धि के बाद इसकी कीमत 96.10 रुपये प्रति लीटर हो गई है। इस प्रकार सात महीने में सीएनजी की कीमत 23 रुपये 60 पैसे बढ़ चुकी है। वहीं, पीएनजी की कीमत 18 दिसंबर 2021 को 37.50 रुपये प्रति किलोग्राम थी, जब 31 जुलाई को बढ़कर 56.20 रुपये हो गई। इस प्रकार पिछले सात महीनों में 18 रुपये 70 पैसे प्रति किलोग्राम पीएनजी महंगा हो चुका है।

%d bloggers like this: