Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

राज्य के शेष 8 जिलों में राष्ट्रीय बागवानी मिशन लागू करने का प्रस्ताव

राज्य के कृषि एवं पशु चिकित्सा अधिकारियों को राज्य कृषि प्रबंधन एवं विस्तार प्रशिक्षण संस्थान समेती रायपुर तथा प्रसार शिक्षण संस्थान (ई.ई.ई) आनंद, गुजरात के संयुक्त तत्वाधान से 13 जून से व्यक्तित्व विकास, संचाल कौशल तथा एसआरईपी बनाने की तकनीक का प्रशिक्षण समेती रायपुर में दिया जा रहा है। इस प्रशिक्षण में कृषि विभाग से सहायक संचालक कृषि, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी, कृषि विकास अधिकारी, ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी, डिप्टी प्रोजेक्ट डायरेक्टर (आत्मा), ब्लाक टेक्नोलाजी मैनेजर एवं असिस्टेंट टेक्नोलाजी मैनेजर तथा पशुपालन विभाग से सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारियों भाग ले रहे हैं।
 इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत 13 जून से 15 जून के मध्य व्यक्तित्व विकास विषय पर, 16 से 18 जून के मध्य प्रभावी विस्तार सेवाओं के लिए संचार कौशल विषय पर तथा 20 एवं 21 जून के मध्य एस.आर.ई.पी. बनाने की तकनीक विषय पर तीन प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन समेती, रायपुर में किया जा रहा है।
संचालक समेती श्री सी.एन. सिंह ने प्रशिक्षण कार्यक्रमों के दौरान प्रशिक्षण की महत्ता समझाते हुए सभी विभाग के मैदानी अमलों के लिए इसकी उपयोगिता पर प्रकाश डाला तथा अपेक्षा की गयी कि प्रशिक्षण एवं प्रशिक्षण टूल्स के माध्यम से जो ज्ञान, कौशल एवं व्यक्तित्व विकास प्राप्त होगा उसे प्रभावी तरीके से किसानों तक पहुंचाने का दायित्व प्रशिक्षणार्थियों का है।
उद्घाटन सत्र में आनंद, गुजरात से आए विशेषज्ञ डॉ बी.एस. दिवेकर ने कहा कि इस प्रकार के प्रशिक्षण कार्यक्रमों में प्रशिक्षणार्थियों में अलग ही व्यक्तित्व, कौशल एवं ज्ञान विकास के साथ उन्नत कृषि तकनीकी के संदेश सही विधि से किसानो तक पहुंचाने में सहायक सिद्ध होते हैं, जो कि उनके विभागीय कार्यों के सम्पादन के लिए भी लाभदायक होंगे। इन प्रशिक्षण कार्यक्रमों में संवाद कौशल, संवाद के बाधक तत्व, तनाव प्रबंधन, सार्वजनिक भाषण कला, ग्राफिक डिजाइन, समय प्रबंधन, विरोधाभाष प्रबंधन, अच्छे लीडर के गुण, एस.आर.ई.पी.आदि विषयों पर व्याख्यान दिया गया।
प्रशिक्षण कार्यक्रमों के दौरान संचालनालय कृषि से उपस्थित अपर संचालक कृषि श्री सी.बी. लोण्डेकर ने प्रशिक्षण कार्यक्रम की उपयोगिता बताते हुए सभी प्रतिभागियों को कृषि एवं पशुपालन के क्षेत्र में बेहतर परिणाम प्रदान करने हेतु प्रेरित किया।  प्रसार शिक्षण
संस्थान (ई.ई.ई), आंनद गुजरात से डॉ. रविकुमार चौधरी, डॉ. योगेश राठवा, डॉ.ए.सी. जटापरा एवं समेती रायपुर से डॉ. प्रकाश शिंदे तथा संचालनालय कृषि से श्री रितेश मोटघरे द्वारा प्रशिक्षण संचालन में विशेष सहयोग प्रदान किया गया।

%d bloggers like this: