Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

International Yoga Day: तन-मन में स्फूर्ति लाए योग, दूर भगाए रोग, जानिए इसके फायदे

International Yoga Day: तन-मन में स्फूर्ति लाए योग, दूर भगाए रोग, जानिए इसके फायदे

सबसे बड़ा सुख निरोगी काया है। रोग मुक्त रहने के लिए रोज योग करें। योग से तन-मन में स्फूर्ति तो आती ही है, तमाम रोग भी पास नहीं आते। योग प्रशिक्षक महिला रोगों में इसके चमत्कारिक लाभ का दावा करते हैं। रक्तचाप से लेकर अनिद्रा, मधुमेह व मानसिक रोग में भी योग लाभदायक है।

आगरा के क्षेत्रीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी डॉ. जुगल किशोर राना के अनुसार योग व्यक्ति को शारीरिक व मानसिक रूप से स्वस्थ रखता है। मानसिक व शारीरिक रूप से अस्वस्थ होने पर ही तरह-तरह के रोग पैदा होते हैं। जो लोग रोज योग करते हैं, वह योग नहीं करने वाले लोगों की अपेक्षा में अधिक स्वस्थ व सक्रिय रहते हैं।

योग एवं आहार विशेषज्ञ सुरभि उपाध्याय ने बताया कि भोग और योग दोनों का जीवन में विशेष महत्व है। भोग या आहार में संतुलन व पौष्टिकता जिस तरह तन को स्वस्थ रखती है, उसी तरह योग मन को स्वस्थ रखता है। महिला रोगों में भी योग से चमत्कारिक लाभ होते हैं।

ये रोग होते हैं दूर
गैस की समस्या दूर होती है।
कब्ज से राहत मिलती है।
अनिद्रा रोग में लाभदायक है।
तनाव से मुक्ति मिलती है।
मधुमेह को नियंत्रित करता है।
रक्तचाप को नियंत्रित करता है।
साइनस व जुकाम में लाभकारी।
सिर दर्द ठीक हो जाता है।
शारीरिक थकान दूर हो जाती है।
पाचन शक्ति मजबूत होती है।
कमर व पीठ दर्द में लाभकारी।
मानसिक रोग में भी कारगर।
सांस रोगी को फायदा होता है।
बाल झड़ने से रोकता है।
थायराइड को नियंत्रित करता है।
(जैसा कि योग प्रशिक्षक केपी सिंह ने बताया)

सबसे बड़ा सुख निरोगी काया है। रोग मुक्त रहने के लिए रोज योग करें। योग से तन-मन में स्फूर्ति तो आती ही है, तमाम रोग भी पास नहीं आते। योग प्रशिक्षक महिला रोगों में इसके चमत्कारिक लाभ का दावा करते हैं। रक्तचाप से लेकर अनिद्रा, मधुमेह व मानसिक रोग में भी योग लाभदायक है।

आगरा के क्षेत्रीय आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी डॉ. जुगल किशोर राना के अनुसार योग व्यक्ति को शारीरिक व मानसिक रूप से स्वस्थ रखता है। मानसिक व शारीरिक रूप से अस्वस्थ होने पर ही तरह-तरह के रोग पैदा होते हैं। जो लोग रोज योग करते हैं, वह योग नहीं करने वाले लोगों की अपेक्षा में अधिक स्वस्थ व सक्रिय रहते हैं।

योग एवं आहार विशेषज्ञ सुरभि उपाध्याय ने बताया कि भोग और योग दोनों का जीवन में विशेष महत्व है। भोग या आहार में संतुलन व पौष्टिकता जिस तरह तन को स्वस्थ रखती है, उसी तरह योग मन को स्वस्थ रखता है। महिला रोगों में भी योग से चमत्कारिक लाभ होते हैं।

%d bloggers like this: