Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

माइक्रोबायोलॉजी लैब एवं हिस्टोपैथोलॉजी लैब का किया लोकार्पण

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री एवं चिकित्सा शिक्षा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, परिवार कल्याण व मातृ एवं शिशु कल्याण मंत्री श्री ब्रजेश पाठक ने आज यहां बलरामपुर चिकित्सालय में ‘‘क्षय रोगियों को गोद’’ लिये जाने सम्बन्धी कार्यक्रम में इण्डियन रेडक्रास सोसायटी द्वारा गोद लिये गये 150 क्षय रोगियों को पुष्टाहार वितरण किया। उन्होंने कहा कि रेडक्रॉस सोसायटी का जनसेवा के क्षेत्र में कार्य करने का गौरवशाली इतिहास रहा है। उन्होंने आशा जताई कि सोसायटी द्वारा इन क्षय रोगियों को पूरी उपचार अवधि तक पोषण सामग्री उपलब्ध कराये जाने से इनको रोगमुक्त होने में बेहतर मदद मिलेगी।
      श्री पाठक ने बलरामपुर चिकित्सालय में माइक्रोबायोलॉजी लैब (सूक्ष्मजीविकी प्रयोगशाला) एवं हिस्टोपैथोलॉजी लैब का भी लोकार्पण किया। मंत्री जी को बताया गया कि लखनऊ स्थित बलरामपुर चिकित्सालय प्रादेशिक चिकित्सा सेवाओं का प्रथम चिकित्सालय होगा, जहां माईक्रोबायोलॉजी लैब स्थापित है। लैब स्थापना से शरीर के समस्त द्रव्य, ब्लड, आंख, त्वचा, नाक-कान-गला आदि के इन्फेक्शन का पता चल जायेगा। पूर्व में यह जांच कराने के लिए मेडिकल कॉलेज जाना पड़ता था। बलरामपुर चिकित्सालय प्रादेशिक चिकित्सा सेवाओं का प्रथम चिकित्सालय है, जो हिस्टोपैथोलॉजी के क्षेत्र में आत्मनिर्भर हो गया है। हिस्टोपैथोलॉजी के माध्यम से शरीर में किसी प्रकार का गॉठ कैंसर है अथवा नहीं, है तो कितना गंभीर है, यह पता चलता है।
       उप मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर 05 बेड के डी0आर0टी0बी0 वार्ड का भी लोकार्पण किया। श्री पाठक को बताया गया कि इस वार्ड में उन क्षय रोगियों का इलाज किया जायेगा, जो दवाईयां लेने में लापरवाही करते रहे और उनकी लापरवाही की वजह से क्षय रोग की दवाओं ने काम करना बंद कर दिया है। उन्होंने वर्ष 1978 में निर्मित विज्ञान भवन के हुये जीर्णोद्धार का भी लोकार्पण किया।

%d bloggers like this: