Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

पिछले 05 वर्षाें में 248668 वैधता समाप्त दवायें पाये जानेपर गहरी नाराजगी व्यक्त की

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री एवं चिकित्सा शिक्षा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, परिवार कल्याण एवं मातृ एवं शिशु कल्याण मत्री श्री ब्रजेश पाठक ने आज गोमतीनगर स्थित राम मनोहर लोहिया चिकित्सा संस्थान का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने संस्थान में मेडिसिन स्टोर पर दवाईयों की उपलब्धता एवं उनके रख-रखाव क़ा निरीक्षण किया। निरीक्षण में स्टोर में विगत 05 वर्षों में 248668 वैधता समाप्त दवाओं का ब्योरा पाया गया, जिन्हें सम्बन्धित कम्पनियों को वापस किया जाना चाहिए था। संस्थान द्वारा ऐसा न करने पर मा0 मंत्री द्वारा गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए सम्बन्धित को फटकार लगायी। साथ ही सचिव, चिकित्सा शिक्षा श्री जी0एस0 प्रियदर्शी की अध्यक्षता में जांच कमेटी गठित करते हुए शीघ्र जांच पूर्ण करनें के निर्देश दिये गये।
श्री पाठक ने बताया कि लोहिया संस्थान में हॉस्पिटल रिवाल्विंग फण्ड के तहत दवाओं की खरीद की जाती है। यह दवाएं मरीजों को सस्ती दर पर मिलनी चाहिए थी परन्तु न ही समय पर मरीजों में यह दवाएं बांटी गयी और न ही एक्सपॉयर दवाएं समय से कम्पनी को लौटायी गयी। दवाओं के एक्सपॉयर होने से सरकारी धन का दुरूपयोग हुआ है। निरीक्षण के दौरान मा0 मंत्री ने सर्वर रूम में बन्द पड़े कम्प्यूटर एवं प्रिंटर पर धूल जमी पाये जाने पर सम्बन्धित को फटकार लगाते हुए साफ-सफाई रखने के निर्देश दिये।
निरीक्षण के दौरान श्री पाठक ने मरीजों एवं उनके तीमारदारों से मिल कर चिकित्सा व्यवस्था एवं उनका कुशलक्षेम जाना। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि मरीजों को परिवार का सदस्य मान कर उनकी देखभाल की जायंे एवं बेहतर से बेहतर चिकित्सकीय सेवायें प्रदान की जायें। संस्थान में पीने का पानी, स्ट्रेचर एवं व्हील चेयर आदि की समुचित व्यवस्था रखते हुए उन्हें साफ-सुथरा एवं क्रियाशील रखा जाय। उन्होंने कहा कि किसी भी मरीज को कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।
उपमुख्यमंत्री ने इस दौरान संस्थान में चल रहे भोजन वितरण का भी जायजा लिया और भोजन वितरण में स्वयं प्रतिभाग भी किया।

%d bloggers like this: