Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

पीपीपी मोड पर पांच नये टेक्सटाइल्स एवं अपैरल पार्क स्थापित होंगे-श्री राकेश सचान

आगामी 30 जून को सम्पूर्ण प्रदेश में ‘‘मेगा लोन मेले’’ का आयोजन किया जायेगा। जिसके अंतर्गत एक लाख लाभार्थियों को विभागीय रोजगार परक योजनाओं एवं बैंकों द्वारा संचालित योजना से ऋण वितरित कराया जायेगा। यह लोन मेला राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति के सहयोग से आयोजित होगा।
     यह जानकारी सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम तथा हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग मंत्री श्री राकेश सचान ने आज यहां दी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशानुसार 100 दिन के भीतर मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, ओडीओपी योजना, माटी कला विकास योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री स्टैंड-अप एवं स्टार्ट अप योजना के तहत एक लाख लोगों को ऋण उपलब्ध कराकर स्वरोजगार से जोड़ने की योजना है। अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि इन योजनाओं के तहत अधिक से अधिक ऋण आवेदन-पत्र बैंको को भेजे जाये।
    श्री सचान ने बताया कि इसी प्रकार विश्वकर्मा श्रम सम्मान, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार, ओडीओपी योजना के अंतर्गत 50 हजार परंपरागत हस्तशिल्पियों एवं कारीगरों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रशिक्षणोपरान्त कारीगरों को टूलकिट भी मुफ्त दिये जायेंगे। उन्होंने बताया कि प्रदेश के युवाओं को उद्यमी बनाने के लिए ’’उद्यम सारथी ऐप’’ में नये आयाम जोड़े जा रहे है। प्रदेश में अधिकाधिक निवेश कराने एवं उद्यमियों की सुविधा हेतु शीघ्र ही नई एमएसएमई नीति लागू की जायेगी। उद्यमियों की सुगमता के लिए लघु उद्योग विभाग के सभी कार्यालयों में ई-आफिस लागू किया जा रहा है।
     श्री सचान ने बताया कि खादी का उत्पादन बढ़़ाने एवं ग्रामीण क्षेत्रों में छोटे-छोटे उद्योगों को स्थापित कराकर अधिक से अधिक रोजगार सृजन किया जायेगा। इसके लिए प्रयागराज में ऊनी धागा उत्पादन केन्द्र की स्थापना कराई जा रही है। प्रयागराज में ही गोबर गैस प्लांट भी लगाया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में 600 इकाइयों की स्थापना का लक्ष्य है, जिससे लगभग छः हजार लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने बताया कि प्रदेश में हथकरघा उद्योग को बढ़ावा देने के लिए नई वस्त्रोंद्योग नीति-2022 जल्द ही लागू हो जायेगी। सोलर एनर्जी से पावरलूम संचालन हेतु नई योजना शुरू की जायेगी। इसके साथ ही पीपीपी मोड पर पांच नये टेक्सटाइल्स एवं अपैरल पार्क स्थापित कराये जायेंगे।

%d bloggers like this: