Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

UP Chunav: सपा विधायक और गठबंधन उम्मीदवार नाहिद हसन गिरफ्तार, कोर्ट ने भेजा जेल

UP Chunav: सपा विधायक और गठबंधन उम्मीदवार नाहिद हसन गिरफ्तार, कोर्ट ने भेजा जेल

हाइलाइट्सकैराना से विधायक है नाहिद हसनगैंगस्टर एक्ट के मुकदमे में था फरार14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा गयालखनऊ
सपा, रालोद गठबंधन के उम्मीदवार और वर्तमान विधायक नाहिद हसन (nahid hasan arrest) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने नाहिद हसन को कोर्ट में पेश किया। इसके बाद नाहिद को 14 दिन को न्यायिक हिरासत में यानी जेल भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि नाहिद गैंगस्टर एक्ट के मुकदमे में फरार थे। इसी मामले में शनिवार को यह कार्रवाई की गई। दूसरी तरफ कहा जा रहा है कि नाहिद हसन ने खुद पुलिस के सामने सरेंडर किया है। कल ही उन्‍होंने अपना नामांकन दाखिल किया था।
UP Chunav: सपा कार्यालय पर अखिलेश यादव की रैली में उमड़ी भीड़, 2500 लोगों पर एफआईआर दर्ज
नाहिद हसन फिलहाल समाजवादी पार्टी (samajwadi party) से कैराना विधायक है। समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल गठबंधन की पहली लिस्ट में ही नाहिद हसन को कैराना से दोबारा उम्मीदवार घोषित किया गया है।

जनवरी 2020 में भी हुई थी गिरफ्तारी
जनवरी 2018 में नाहिद हसन और उनकी मां तबस्सुम बेग पर जमीन के बैनामे में तकरीबन 80 लाख रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी। शिकायतकर्ता कैराना के रहने वाले मोहम्मद अजीज थे। इस मामले में नौ लोगों पर मुकदमा दर्ज हुआ था। जनवरी 2020 में विधायक नाहिद हसन की जमानत याचिका खारिज करते हुए कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।
UP Chunav 2022: सपा की इन 8 सीटों पर एक-दो नहीं 73 दावेदार, अखिलेश के लिए समझाना मुश्किल, कहीं पड़ न जाए फूट
गैंगरेप पीड़िता के परिवार को धमकाने का आरोप
नाहिद हसन पर गैंगरेप पीड़िता के परिवार को धमकाने का भी आरोप लग चुका है। गंगोह के मुहल्ला औलिया निवासी एक शख्स ने कोतवाली में तहरीर दी थी। इसमें आरोप लगाया था कि 29 जून 2018 को कैराना के विधायक नाहिद हसन ने मोबाइल पर धमकी देकर गैंगरेप से जुड़ा मुकदमा वापस लेने और जबरन समझौता करने का दबाव बना रहे। साथ ही पीड़ित परिवार को फर्जी मुकदमों में फंसाने की धमकी दी थी।

nahid hasan

%d bloggers like this: