Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

मुख्यमंत्री श्री बघेल के निर्देश पर योजनाओं का लाभ अंतिम छोर तक पहुंचाने की कवायद

 मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप राज्य में शासन-प्रशासन द्वारा शासन की योजनाओं का लाभ अंतिम छोर तक पहुंचाने के लिए हर संभव पहल की जा रही है। इस तारतम्य में दक्षिण बस्तर (दंतेवाड़ा) जिले के कलेक्टर श्री दीपक सोनी तथा पुलिस अधीक्षक श्री सिद्धार्थ तिवारी आज कुआकोंडा विकासखण्ड के अति संवेदनशील क्षेत्र ग्राम नहाड़ी पहुँचे। वहाँ ग्रामीणों से रू-ब-रू होकर ग्रामीणों की समस्याओं का निवारण किया।

ग्राम नहाड़ी में ग्रामीणों ने कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को अपने बीच पाकर खुशी व्यक्त की। जनदर्शन चौपाल में बड़ी संख्या में ग्रामीणजन एकत्रित हुए। इस दौरान कलेक्टर श्री सोनी ने बताया कि नहाड़ी ग्राम में प्राथमिक शाला में 2 अतिरिक्त कक्ष, आंगनबाड़ी केंद्र, पेयजल, बिजली, सड़क, स्वास्थ्य केंद्र के कार्य स्वीकृत किये गए है। बेरोजगारों को रोजगार से जोड़ने हेतु राशन, कृषि यंत्र, सैलून, लोक सेवा केंद्र इत्यादि की व्यवस्था की जा रही है। स्वरोजगार हेतु इच्छुक हितग्राहियों को बकरी, मुर्गी, सुकर, बटेर का वितरण किया जायेगा। कलेक्टर ने कहा कि शासन की योजनाओं को क्षेत्र के अंतिम गांव तक ले जाना, ग्रामीणों को उनका लाभ दिलाना शासन का उद्देश्य है। कलेक्टर ने कहा कि आने वाले दिनों में नहाड़ी में कई विकास कार्य किए जाएंगे। साथ ही ग्रामीणों को शासन की हर योजनाओं का लाभ दिलाने की कोशिश प्रशासन कर रही है।

उन्होंने नहाड़ी में ग्रामीणों को अवगत कराते हुए कहा कि यहां मनरेगा के तहत अनेक कार्यों की स्वीकृति दी गई है। साथ ही स्वीकृत कार्यों के बारे में बताते हुए उनके प्रगति के सबंध में जानकारी भी ली। ग्रामीणों से मिलकर शासन द्वारा दी जा रही मूलभूत सुविधाओं के बारे में पूछा। उन्होंने ग्रामीणों से उनके कृषि कार्य के बारे में पूछा तथा कोदो, कुटकी, रागी के सबंध में जानकारी लेते हुए बताया कि जिले में इसकी समर्थन मूल्य पर खरीदी की जा रही है। कलेक्टर ने ग्रामीणों से आधार कार्ड, राशन कार्ड के बारे में चर्चा करते हुए जिला प्रशासन द्वारा आयोजित की जा रही शिविर का लाभ लेने के लिए प्रेरित किया तथा कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कोविड नियमों का पालन करते हुए कार्य करने की समझाइश दी।

ग्रमीणों ने कलेक्टर को अपने बीच देख अनेक विकास कार्यों की मांग रखी। ग्रामीणों की मांग पर त्वरित निराकरण करते हुए स्थल पर ही पानी टंकी ठीक करने के निर्देश ग्राम पंचायत को दिए गए। कैंप लगते ही नहाड़ी इलाके में सड़क निर्माण का कार्य प्रारंभ हुआ, खुशी जताते हुए ग्रामीणों ने जिला प्रशासन का आभार जताया। श्री सोनी ने बताया कि यहाँ पर कैम्प शुरू हो चुका है, जहां ग्रामीणों को रोजगार से जोड़ा जाएगा। निम्न वर्गीय परिवारों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए कई कार्य किये जा रहे है। नहाड़ी ग्राम के लोगों को समूह बनाकर कार्य करने के लिए शहीद वीर नारायण सिंह योजना के तहत अनुदान राशि देने की बात कही। ग्रामीणजनों को अवगत कराया कि अरनपुर के आसपास के 6 पंचायतों में 9 करोड़ की कार्यों की स्वीकृति दी गई है। राशन दुकान बनने से अब अपने ग्राम पंचायत में ही राशन वितरण की सुविधा उपलब्ध हो पाएगी। पूर्व में यहाँ के ग्रामीणों को 10 किलोमीटर दूर राशन लेने अरनपुर पंचायत जाना पड़ता था।

%d bloggers like this: