Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

धान क्रय केन्द्र पर कृषकों को किसी प्रकार की असुविधा न हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाय

उत्तर प्रदेश के सहकारिता मंत्री श्री मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा कि रबी अभियान वर्ष 2021-22 के अन्तर्गत 7.71 लाख मै0टन फॉस्फेटिक उर्वरक के लक्ष्य के सापेक्ष सहकारी क्षेत्र में 6.86 लाख मै0टन फॉस्फेटिक उर्वरक की उपलब्धता सुनिश्चित करायी गयी है। सहकारी बिक्री केन्द्रों के माध्यम से फॉस्फेटिक उर्वरक   5.25 लाख मै0टन का वितरण किया जा चुका है। इफकों द्वारा रबी अभियान में 3.20 लाख मै0टन फॉस्फेटिक उर्वरक उपलब्ध कराया गया है, माह नवम्बर मंे 45 हजार मै0टन फॉस्फेटिक उर्वरक और उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया गया है।
श्री वर्मा आज विभागीय समीक्षा बैठक अपने सरकारी आवास पर कर रहे थे। उन्होंने कहा कि रबी अभियान वर्ष 2021-22 में यूरिया लक्ष्य के सापेक्ष उपलब्धता सुनिश्चित करायी जाए, इसका विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने यह भी कहा कि सभी सम्बन्धित अधिकारी पारदर्शी वितरण हेतु सतत् क्षेत्र भ्रमण करते रहे जिससे किसानों को यूरिया आसानी से उपलब्ध हो सके। उन्होंने यह भी कहा कि उर्वरक की कालाबाजारी एवं ओवररेटिंग आदि की शिकायतें प्राप्त होने पर कठोर कार्यवाही सुनिश्चित की जाये, साथ ही सीमावर्ती जनपदों से यदि कहीं उर्वरक प्रदेश के बाहर जाते हुए पाई जाए तो उनके खिलाफ वैधानिक कार्यवाही की जाए। वर्ष 2020-21 के अन्तर्गत धान क्रय एवं रबी अभियान में उर्वरकों की उपलब्धता के सम्बन्ध में कहा कि सहकारी संस्थाओं यथा पी0सी0एफ0/पी0सी0यू0/यू0पी0एस0एस0 के 2554 केन्द्रों पर धान क्रय प्रगति पर है, क्रमिक खरीद 541172.00 मै0टन की जा चुकी है, कृषकों को 540 करोड़ रूपये का भुगतान किया जा चुका है। कृषकों को 72 घण्टे से भीतर भुगतान सुनिश्चित कराने का निर्देश दिये हैं। धान क्रय केन्द्र पर कृषकों को अपना धान बेचेने में किसी प्रकार की असुविधा न हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाये। उन्होंने वरिष्ठ नोडल अधिकारी जिनकों मण्डल आवंटित किये गये है, वे धान क्रय केन्द्रों का नियमित निरीक्षण करें और धान क्रय में तेजी लाए तथा लक्ष्य के सापेक्ष खरीद सुनिश्चित की जाये। धान मिलों से सी0एम0आर0 भी समय से प्राप्त किया जाय ताकि संस्थाओं यथा पी0सी0एफ0/पी0सी0यू0/यू0पी0एस0एस0 को आर्थिक क्षति न हों।

%d bloggers like this: