Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

क्रिप्टो करेंसी पर कानून ऐसा बने जिससे आतंक-वित्तपोषण और मनी लॉन्ड्रिंग करने वालों का सफाया हो सके

डिजिटल मुद्रा विधेयक, 2021 का क्रिप्टोकरेंसी और विनियमन, कुल 26 विधेयकों में से एक है, जिन्हें पेश करने के लिए सूचीबद्ध किया गया है। ऐसे में अगर यह विधेयक संसद से पारित हो गया तो बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने वालों के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है।जानकारी के मुताबिक, शीतकालीन सत्र के दौरान सरकार संसद में कुल 26 विधेयकों को लाने की तैयारी में है। इसी में से एक विधेयक क्रिप्टोकरेंसी का भी है।

डिजिटल मुद्रा विधेयक, 2021 का क्रिप्टोकरेंसी और विनियमन, कुल 26 विधेयकों में से एक है, जिन्हें पेश करने के लिए सूचीबद्ध किया गया है। ऐसे में अगर यह विधेयक संसद से पारित हो गया तो बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने वालों के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है। इस बिल ना नाम ‘द क्रिप्टोकरेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बिल, 2021Ó रखा गया है।

मिली जानकारी के मुताबिक, ‘द क्रिप्टोकरेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ ऑफिशियल डिजिटल करेंसी बिल, 2021Ó में भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी की जाने वाली आधिकारिक डिजिटल करेंसी के क्रिएशन के लिए एक फ्रेमवर्क बनाने की भी मांग की गई है। आपको बता दें कि क्रिप्टोकरेंसी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी चिंता जाहिर की थी। उन्होंने कहा था- सभी लोकतांत्रिक देशों को इस पर मिलकर काम करना होगा।

साथ ही हमें यह भी कोशिश करनी होगी कि यह गलत हाथों में ना जाए। ऐसा होने हमारे युवाओं को यह बर्बाद कर सकता है।दुनिया भर की सरकारें आतंक-वित्तपोषण और मनी लॉन्ड्रिंग के मुद्दों का सामना कर रही हैं, इनमें क्रिप्टोकरेंसी का भी अहम योगदान हो सकता है।

%d bloggers like this: