Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

एटा पहुंचा चुनावी रथ: ‘चाय पर चर्चा’ में छलका महंगाई और पिछड़ेपन का दर्द

चुनावी रथ सत्ता का संग्राम बृहस्पतिवार को एटा में पहुंचा। यहां बृहस्पतिवार की सुबह नेशनल हाईवे पर ठंडी सड़क तिराहा के पास बाबा टी स्टॉल पर चाय पर चर्चा हुई। इसमें जिले के विकास, महिलाओं की सुरक्षा, महंगाई और जिले की जरूरतों के मुद्दे लोगों ने रखे। रघुवीर सिंह ने कहा कि जिले में विकास के नाम पर कुछ नहीं हुआ। कुछ सड़कें दुरुस्त हुईं, लेकिन अधिकांश सड़कें टूटी पड़ी हैं। जिले को विकास, रोजगार और अच्छी बिजली आपूर्ति की जरूरत है।

बिजली की बात आगे बढ़ाते हुए रवि चौधरी बोले कि शहर में तो व्यवस्था ठीक है लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली बहुत कम मिल रही है। सिंचाई के लिए किसान परेशान हैं। शिक्षिका राजकुमारी यादव ने कहा कि स्कूल, कॉलेज, कोचिंग जाने-आने वाली लड़कियों के साथ लड़के छींटाकशी और छेड़छाड़ करते हैं। महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। मुफ्त गैस कनेक्शन देकर सिलिंडर का दाम एक हजार रुपये कर दिया। तेल 200 रुपये लीटर बिक रहा है। महिलाओं को रोजगार नहीं मिल रहा।

महिलाओं ने कहा- विकास हो रहा है
प्रीति ने बताया कि पीएम कौशल विकास योजना में दो साल पहले आवेदन किया, अब तक कुछ नहीं हुआ। व्यापारी दीपक ने कहा कि मेडिकल कॉलेज, बाईपास, अच्छी बिजली इस सरकार की देन है, जिससे विकास हो रहा है।

मनोज जैन बोले कि विकास अच्छा हो रहा है, यह तभी संभव है जब सरकार को टैक्स मिलेगा। टैक्स लगने से महंगाई भी स्वाभाविक रूप से बढ़ेगी। अशोक जैन ने अच्छी कानून व्यवस्था की बात कही। किसान नेता अखिल संघर्षी ने कहा कि मेडिकल कॉलेज स्वशासी बनाया गया। जिसमें कुछ समय बाद जांच और इलाज के लिए पैसा लिया गया तो गरीबों को दिक्कत होगी।

चुनावी रथ सत्ता का संग्राम बृहस्पतिवार को एटा में पहुंचा। यहां बृहस्पतिवार की सुबह नेशनल हाईवे पर ठंडी सड़क तिराहा के पास बाबा टी स्टॉल पर चाय पर चर्चा हुई। इसमें जिले के विकास, महिलाओं की सुरक्षा, महंगाई और जिले की जरूरतों के मुद्दे लोगों ने रखे। रघुवीर सिंह ने कहा कि जिले में विकास के नाम पर कुछ नहीं हुआ। कुछ सड़कें दुरुस्त हुईं, लेकिन अधिकांश सड़कें टूटी पड़ी हैं। जिले को विकास, रोजगार और अच्छी बिजली आपूर्ति की जरूरत है।

बिजली की बात आगे बढ़ाते हुए रवि चौधरी बोले कि शहर में तो व्यवस्था ठीक है लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली बहुत कम मिल रही है। सिंचाई के लिए किसान परेशान हैं। शिक्षिका राजकुमारी यादव ने कहा कि स्कूल, कॉलेज, कोचिंग जाने-आने वाली लड़कियों के साथ लड़के छींटाकशी और छेड़छाड़ करते हैं। महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। मुफ्त गैस कनेक्शन देकर सिलिंडर का दाम एक हजार रुपये कर दिया। तेल 200 रुपये लीटर बिक रहा है। महिलाओं को रोजगार नहीं मिल रहा।

महिलाओं ने कहा- विकास हो रहा है

प्रीति ने बताया कि पीएम कौशल विकास योजना में दो साल पहले आवेदन किया, अब तक कुछ नहीं हुआ। व्यापारी दीपक ने कहा कि मेडिकल कॉलेज, बाईपास, अच्छी बिजली इस सरकार की देन है, जिससे विकास हो रहा है।

मनोज जैन बोले कि विकास अच्छा हो रहा है, यह तभी संभव है जब सरकार को टैक्स मिलेगा। टैक्स लगने से महंगाई भी स्वाभाविक रूप से बढ़ेगी। अशोक जैन ने अच्छी कानून व्यवस्था की बात कही। किसान नेता अखिल संघर्षी ने कहा कि मेडिकल कॉलेज स्वशासी बनाया गया। जिसमें कुछ समय बाद जांच और इलाज के लिए पैसा लिया गया तो गरीबों को दिक्कत होगी।

%d bloggers like this: