Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

सर्वश्रेष्ठ शासन में छत्तीसगढ़ देश के 5 शीर्ष राज्यों में शामिल

छत्तीसगढ़ सर्वश्रेष्ठ शासन के लिए जाने जाने वाले शीर्ष पांच राज्यों में शामिल है। वर्ष 2021 में छत्तीसगढ़ को सर्वश्रेष्ठ शासित राज्यों की सूची में चौथा स्थान दिया गया है। केरल ने 1.618 अंक के साथ सूची में शीर्ष स्थान हासिल किया है। पब्लिक अफेयर्स इंडेक्स (पीएआई) 2021 के अनुसार छत्तीसगढ़ ने 0.872 स्कोर किया है जो विकास, इक्विटी और स्थिरता संकेतकों को देखकर तथा उसका मूल्यांकन कर नम्बर दिया गया है।

बघेल का ट्वीट

इस उपलब्धि पर राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘बताते हुए हर्ष हो रहा है कि पब्लिक अफेयर्स इंडेक्स (पीएआई) 2021 के अनुसार छत्तीसगढ़ सर्वश्रेष्ठ शासन के लिए जाने जाने वाले शीर्ष पांच राज्यों में शामिल है। वर्ष 2021 में छत्तीसगढ़ को सर्वश्रेष्ठ शासित राज्यों की सूची में चौथा स्थान दिया गया है। प्रदेश की जनता को बधाई। #CGTurns21’

पीएसी इंडेक्स
पब्लिक अफेयर्स सेंटर (PAC) द्वारा पब्लिक अफेयर्स इंडेक्स (PAI 2021) की रिपोर्ट के छठे संस्करण के अनुसार, बेंगलुरु स्थित एक गैर-लाभकारी थिंक टैंक, छत्तीसगढ़ भी 0.946 स्कोर के साथ स्थिरता सूचकांक में तीसरे स्थान पर है। स्थिरता सूचकांक संसाधनों तक पहुंच और उपयोग के आधार पर राज्यों को रैंक करता है। इसका प्रभाव अर्थव्यवस्था, पर्यावरण और मानव जाति पर पड़ता है।

पीएआई 2021 राज्य सरकार के गुणवत्ता शासन और विशेष रूप से कोविड -19 पर अंकुश लगाने में राज्य की सरकार की भागीदारी पर प्रकाश डालता है। यह रिपोर्ट हिंदू द्वारा प्रकाशित की गई है।

दिव्यांग व्यक्तियों के सशक्तिकरण के लिए छत्तीसगढ़ को तीन श्रेणियों में मिला राष्ट्रीय पुरस्कार

/केन्द्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय अंतर्गत दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग द्वारा वर्ष 2020 के दिव्यांग व्यक्तियों के सशक्तिकरण के लिए राष्ट्रीय पुरस्कारों के विजेताओं की घोषण कर दी है। इसमें छत्तीसगढ़ को तीन श्रेणियों में राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त किया है। छत्तीसगढ़ को यह पुरस्कार 3 दिसंबर को अंतराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के अवसर पर नई दिल्ली में प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और समाज कल्याण मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया ने राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त करने पर चयनितों को बधाई दी है।
राष्ट्रीय पुरस्कार के बेस्ट ब्रेल प्रेस की श्रेणी में बिलासपुर में समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित बेल प्रेस का चयन किया गया है। विकलांग व्यक्तियों के लिए अवरोध मुक्त वातावरण के निर्माण में उत्कृष्ट कार्य के लिए स्थानीय निकाय की श्रेणी में नया रायपुर का चयन किया गया है। इसके लिए अटल नगर विकास प्राधिकरण को राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ में 2800 रुपये क्विंटल की दर से होगी धान खरीदी, बाहरी धान पर कसेगा शिकंजा

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सत्ता में आते ही किसानों का कर्जमाफी करने वाली भूपेश सरकार ने किसानों के लिए एक बार फिर बड़ी बात कही है। रायपुर सीएम हाउस में आज गोवर्धन पूजा के अवसर पर सीएम भूपेश बघेल ने कहा चुनाव आते-आते धान का दाम 2800 रुपए (Government will Purchase Paddy on 2800 Rs Per Quintal) मिलेगा। अभी किसानों को 2500 रुपए प्रति क्विंटल से अधिक मिल रहा है, अगले साल इससे ज्यादा दाम मिलेगा।

बता दें देशभर में धान का समर्थन मूल्य सबसे ज्यादा छत्तीसगढ़ सरकार किसानों को दे रही है। ऐसे में प्रति क्विंटल 500 रुपये की बढ़ोतरी इस महंगाई में किसानों को राहत प्रदान करेगी ।

छेरछेरा पुन्नी-शाकंभरी जयंती पर अवकाश घोषित
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने छत्तीसगढ़िया अभिमान और स्वाभिमान को पुनर्जीवित करने के लिए कदम उठाए। हरेली, तीजा-पोरा, कर्मा जयंती, विश्व आदिवासी दिवस और छठ पूजा पर सार्वजनिक अवकाश से जनजीवन में सकारात्मक संदेश पहुंचा है। छत्तीसगढ़ आज भी कृषि की बहुलता वाला प्रदेश है, यहां की माटी में नई फसल के साथ दान का महत्व भी समाहित है, इसलिए छेरछेरा पुन्नी-शाकंभरी जयंती के लिए अवकाश की घोषणा की गई है। उन्होंने लोकवाणी में देवउठनी एकादशी, नामदेव जयंती, गुरुनानक जयंती, श्रीमती इंदिरा गांधी जयंती, डॉ. सैय्यदना साहब की जयंती पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दीं।

छत्तीसगढ़ में तीन वर्ष से अधिक आयु समूह के छोटे बच्चों के लिए संचालित होगी बालवाड़ी

मुख्यमंत्री ने राजधानी रायपुर में दो दिवसीय जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम का किया उद्घाटन

रायपुर, 14 नवंबर 2021

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने भारत के प्रथम प्रधानमंत्री भारत रत्न पंडित जवाहर लाल नेहरू के जन्मदिन बालदिवस के अवसर पर आज राजधानी रायपुर के पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित दो दिवसीय जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम का उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर छत्तीसगढ़ के स्कूली शिक्षा का विजन डाक्यूमेंट 2030 के तहत तीन महत्वपूर्ण घोषणाएं की। उन्होंने कहा कि स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालय की तर्ज पर गुणवत्तायुक्त शिक्षा प्रदान करने के लिए छत्तीसगढ़ में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मानकों के अनुरूप विद्यालय संचालित किए जाएंगे। तीन वर्ष से अधिक आयु समूह के छोटे बच्चों के लिए बालवाड़ी का संचालन कर उन्हें पूर्व प्राथमिक शिक्षा प्रदान की जाएगी और कक्षा नौवीं से 12वीं के विद्यार्थियों को रोजगारोन्मुखी शिक्षा प्रदान की जाएगी ताकि बच्चे अपनी पढ़ाई के साथ-साथ किसी विधा विशेष में हुनर अर्जित कर सकें।

अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मानकों के अनुरूप विद्यालय होंगे प्रारंभ: श्री भूपेश बघेल

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में पूरी दुनिया प्रभावित हुई थी। इस दौर में छत्तीसगढ़ में डिजिटल शिक्षा की शुरूआत की गई। कोरोना संकट के दौरान अनेक चुनौतियों के बावजूद शिक्षकों ने भी अपने शैक्षणिक दायित्वों का बखूबी निर्वहन किया। छत्तीसगढ़ में छाते वाले गुरूजी, घंटी वाल

%d bloggers like this: