Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

मृतकों के साथ सहानुभूति व मुआवजा में भेदभाव निंदनीय

एसडीएम को ज्ञापन देते ब्राह्मण महासभा के पदाधिकारी।

राष्ट्रीय ब्राह्मण एकता परिषद ने प्रधानमंत्री को भेजा ज्ञापन
मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग
लखीमपुर खीरी। राष्ट्रीय ब्राह्मण एकता संगठन के लोगों ने प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर तिकुनिया कांड के मृतकों के साथ सहानुभूति और मुआवजा में भेदभाव करने पर निंदा जताई। संगठन के लोगों ने एसडीएम को ज्ञापन देकर सूबे को बदनाम करने एवं हत्या, हंगामा व आगजनी करने वाले कथित किसानों को गिरफ्तार करने की मांग की है।
जिलाध्यक्ष अतुल शुक्ला ने कहा बताया कि हिंसा में मारे गए सभी मृतकों के साथ एक जैसी सहानुभूति और मुआवजा मिले। इसमें भेदभाव करना निंदनीय है। उन्होंने बताया कि हिंसा के दौरान पीट-पीटकर हत्या करने वालों को वीडियो सामने आने के बावजूद पुलिस ने अभी तक हत्यारों को गिरफ्तार नहीं किया है। उन्होंने कहा कि सरकार किसी के दबाव में न आकर केंद्रीय मंत्री व उनके पुत्र को न्याय दिलाने एवं भेदभाव पूर्ण मुआवजे की जांच कराकर प्रदेश एवं देश को षड्यंत्रकारियों से बचाने के लिए कठोर कार्रवाई करें। वरिष्ठ उपाध्यक्ष रामेंद्र त्रिपाठी, जितेंद्र मिश्रा, नवनीत अवस्थी, अजय अवस्थी, आदर्श, प्रदीप बाजपेई, धर्मेश मिश्रा, उमाशंकर तिवारी, अक्षत तिवारी आदि मौजूद रहे।

राष्ट्रीय ब्राह्मण एकता परिषद ने प्रधानमंत्री को भेजा ज्ञापन

मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग
लखीमपुर खीरी। राष्ट्रीय ब्राह्मण एकता संगठन के लोगों ने प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर तिकुनिया कांड के मृतकों के साथ सहानुभूति और मुआवजा में भेदभाव करने पर निंदा जताई। संगठन के लोगों ने एसडीएम को ज्ञापन देकर सूबे को बदनाम करने एवं हत्या, हंगामा व आगजनी करने वाले कथित किसानों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

जिलाध्यक्ष अतुल शुक्ला ने कहा बताया कि हिंसा में मारे गए सभी मृतकों के साथ एक जैसी सहानुभूति और मुआवजा मिले। इसमें भेदभाव करना निंदनीय है। उन्होंने बताया कि हिंसा के दौरान पीट-पीटकर हत्या करने वालों को वीडियो सामने आने के बावजूद पुलिस ने अभी तक हत्यारों को गिरफ्तार नहीं किया है। उन्होंने कहा कि सरकार किसी के दबाव में न आकर केंद्रीय मंत्री व उनके पुत्र को न्याय दिलाने एवं भेदभाव पूर्ण मुआवजे की जांच कराकर प्रदेश एवं देश को षड्यंत्रकारियों से बचाने के लिए कठोर कार्रवाई करें। वरिष्ठ उपाध्यक्ष रामेंद्र त्रिपाठी, जितेंद्र मिश्रा, नवनीत अवस्थी, अजय अवस्थी, आदर्श, प्रदीप बाजपेई, धर्मेश मिश्रा, उमाशंकर तिवारी, अक्षत तिवारी आदि मौजूद रहे।

%d bloggers like this: