Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

UP सुंदर लड़की…10 लाख दहेज…शादी का जाल बिछाकर कानपुर पुलिस ने ऐसे पकड़ा फरार अपराधी

UP news: सुंदर लड़की...10 लाख दहेज...शादी का जाल बिछाकर कानपुर पुलिस ने ऐसे पकड़ा फरार अपराधी

कानपुर में एक अपराधी फरार होकर दिल्ली भाग गया थाकई दिनों से पुलिस कर रही थी तलाश, पर गिरफ्त में नहीं आ रहा थापुलिस को पता चला घरवाले शादी के लिए ढूंढ रहे हैं लड़कीपुलिसवाले लड़की का भाई और पिता बनकर पहुंचेकानपुर
अपराधियों को पकड़ने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस तरह-तरह के हथकंडे अपना रही है। ऐसे में कानपुर में एक दिलचस्प मामला सामने आया। यहां कई महीनों से फरार चल रहे एक बदमाश को पकड़ने के लिए पुलिस ने उसकी शादी कराने का जाल बिछाया। लड़कीवाले बनकर पहुंचे और लड़की देखने के बहाने अपराधी को बुलाया गया। उसके बाद पुलिस ने उसे धर-दबोचा।

मामला सचेंडी क्षेत्र के उदयपुर गांव का है। यहां काकादेव थाने से एक हेड कॉन्स्टेबल और एक सिपाही अपराधी धर्मेंद्र चंदेल उर्फ बीनू ठाकुर के घर पहुंचे। लड़की का भाई बनकर 10 लाख रुपये दहेज के साथ शादी का प्रस्ताव रखा।

लड़की का फोटो देखकर शादी के लिए राजी हुए घरवाले
दोनों पुलिसवाले एक बुजुर्ग व्यक्ति को साथ ले गए, जिसे उन्होंने लड़की के पिता के रूप में पेश किया। उनके साथ एक लड़की की फोटो भी थी। अपराधी का परिवार तुरंत प्रस्ताव पर सहमत हो गया और फिर पुलिस ने भावी दूल्हे से मिलने पर जोर दिया।

दिल्ली से कानपुर आते ही पकड़ा
बीनू ठाकुर, जो एक कुख्यात ऑटो चोर है, दिल्ली में था। वह सोमवार शाम को लड़की देखने के लिए दिल्ली से अपने घर आया। यहां पुलिस ने उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया।

दोनों पुलिसकर्मियों को मिलेगा इनाम
डीसीपी पश्चिम संजीव त्यागी ने पिछले एक साल से फरार अपराधी को गिरफ्तार करने के लिए ड्रामा करने वाले दो पुलिसकर्मियों के लिए नकद इनाम की घोषणा की है। पुलिस ने बीनू ठाकुर के दो अन्य साथियों को कल्याणपुर इलाके से गिरफ्तार किया और उनके कब्जे से चोरी के कई दोपहिया वाहन बरामद की है।

सूत्रों से पता चला लड़की तलाश रहे घरवाले
पुलिस ने बताया कि जब कुछ सूत्रों ने पुलिस को बताया कि आरोपी के परिवार वाले शादी के लिए लड़की की तलाश कर रहे हैं, तो काकादेव थाने के इंस्पेक्टर कुंज बिहारी मिश्रा ने कॉन्स्टेबल धर्मेंद्र तिवारी और अमित को लड़की का भाई और एक बुजुर्ग व्यक्ति को पिता बनाकर उसके घर भेजा। उसके बाद जाल बिछाकर उसे पकड़कर जेल भेज दिया गया।

%d bloggers like this: