Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

Night curfew in Prayagraj: कोविड संक्रमण के बीच प्रयागराज में नाइट कर्फ्यू शुरू, 12वीं तक स्कूल भी रहेंगे बंद

Night curfew in Prayagraj: कोविड संक्रमण के बीच प्रयागराज में नाइट कर्फ्यू शुरू, 12वीं तक स्कूल भी रहेंगे बंद

प्रयागराजयूं तो पूरे देश में कोविड-19 का संक्रमण तेजी से फिर से पांव पसारने लगा है और अगर प्रदेश की बात करें तो पूरे प्रदेश में कुछ जिलों में कोविड-19 के मरीज तेजी से मिल रहे हैं। प्रयागराज भी एक ऐसा जिला है, जिसमें बहुत तेजी से कोविड-19 के मामले सामने आ रहे हैं। यहां पिछले 3 दिनों में 3000 से अधिक कोरोना के मरीज मिले हैं। बढते संक्रमण के बीच प्रयागराज में एक से बारहवीं तक के सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं तो वहीं जिला प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू लगा दिया है।एक हफ्ते में तेजी से बढ़े कोविड-19 के मरीजउत्तर प्रदेश के लखनऊ के बाद सबसे अधिक कोविड-19 के नए मामले प्रयागराज में सामने आए हैं। प्रयागराज में बीते 1 हफ्ते से कोविड-19 के मरीज में बढ़ोतरी हुई है तो पिछले 3 दिनों से 3000 से ऊपर नए मरीज सामने आए हैं। तेजी से बढ़ते संक्रमण के चलते प्रयागराज के निजी और सरकारी स्कूल एक से बारहवीं तक 20 अप्रैल तक बंद कर दिए गए हैं। इन 3 दिनों में कोविड-19 के संक्रमण के चलते 10 लोगों की मौत भी हुई है तो वही संक्रमण के रोकथाम के लिए जिला प्रशासन ने प्रयागराज में रात्रि 9:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक का नाइट कर्फ्यू लगा दिया है।आपको बता दें यह नाइट कर्फ्यू 20 अप्रैल तक रखा जाएगा, अगर इसके बाद मरीजों के आने की संख्या कम हो गई, तभी इस विचार किया जाएगा। वहीं, प्रयागराज एडीएम अशोक कनौजिया ने बताया नाइट कर्फ्यू के दौरान जो भी उल्लंघन करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने नाईट कर्फ्यू के दौरान गश्त तेज कर दी है और लगातार अलाउंस कर रहे हैं कि नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है सभी लोग इसका पालन करें।नाइट कर्फ्यू में इन चीजों में रहेंगी छूटसंक्रमण के बीच प्रयागराज में बृहस्पतिवार से नाइट फिर शुरू हुआ है। इस दौरान जरूरी सामानों की आपूर्ति की सेवाएं जारी रहेंगी। घोषित की गई परीक्षा तिथि के अनुसार ही करवाई जाएगी। इस दौरान स्कूल और कॉलेजों के शिक्षण संस्थानों को कोविड-19 गाइडलाइन के अनुसार ही परीक्षा करवानी होगी। नाइट कर्फ्यू में प्रतियोगी परीक्षाओं के परीक्षार्थी, रात की शिफ्ट में काम करने वाले सरकारी और निजी संस्थानों के कर्मचारी और पंचायत चुनाव के अलावा जरूरी सेवाओं में लगे कर्मचारियों को इस प्रतिबंध से बाहर रखा गया है। शादी के कार्यक्रम, अंतिम संस्कार यात्रा, धार्मिक समारोह को इस प्रतिबंध से बाहर रखा गया है। इसके अलावा नाइट कर्फ्यू के दौरान टिकट दिखाकर यात्री रात में आ जा सकते हैं। शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ संगम के परेड मैदान में आईसीसीसी सभागार में समीक्षा बैठक करेंगे। उसके बाद एसआरएन हॉस्पिटल के कोविड-19 निरीक्षण भी करेंगे।