Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

डॉ. बंसल हत्याकांड : आलोक की तलाश में नोएडा पहुंची पुलिस, कई से पूछताछ

Prayagraj News : Dr. AK Bansal file photo

Prayagraj News : Dr. AK Bansal file photo
– फोटो : prayagraj

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

बंसल हत्याकांड के मुख्य आरोपी आलोक सिन्हा की तलाश में बुधवार को पुलिस टीम नोएडा पहुंच गई है। उसके बारे में उसके परिचितों से जानकारी इकट्ठी की जा रही है। गाजियाबाद में आलोक ने जहां आफिस खोला था, वहां भी पूछताछ की गई है। पुलिस वहां काम करने वालों से भी पूछताछ करेगी। उनकी भी तलाश की जा रही है। आफिस पिछले कई सालों से बंद है, इस कारण से वहां काम करने वालों की तलाश मुश्किल हो रही है। पुलिस टीम दिल्ली भी गई थी। जल्द ही पुलिस की अन्य टीमों को आलोक के पटना स्थित पैत्रिक गांव और नेपाल भी भेजा जाएगा। 55 लाख के लेनदेन के मामले में डॉ. बंसल ने आलोक को जेल भेजवा दिया था। इसी का बदला लेने के लिए एडमीशन माफिया आलोक सिन्हा ने 70 लाख रुपये की सुपारी देकर बंसल की हत्या करवा दी थी। एसटीएफ ने दो दिन पहले प्रतापगढ़ के शूटर शोएब को गिरफ्तार किया तो मामले का खुलासा हो गया। एफआईआर में आलोक को मुख्य आरोपी बनाया गया है। पुलिस उसी दिन से आलोक की खोजबीन में जुटी है। सूत्रों के मुताबिक आलोक की तलाश में पुलिस टीम ने नोएडा और गाजियाबाद में छापा मारा।
नोएडा में वह रहता था। गाजियाबाद में उसका आफिस था। बंसल की हत्या के बाद से ही वह अपने परिवार के साथ गायब है। पुलिस को आशंका है कि वह कहीं नाम बदलकर रह रहा है। पुलिस ने नोएडा और गाजियाबाद में उसके परिचितों से पूछताछ की। सभी का यही कहना था कि वह सालों से नहीं मिला है। उसका आफिस भी बंद है। वहां काम करने वालों के बारे में भी जानकारी इकट्ठी जा रही है।पुलिस के पास आलोक का पुराना मोबाइल नंबर है। उसकी कॉल डीटेल्स से भी पुलिस को कई जानकारियां मिली हैं। कई लोगों के नंबर मिले हैं लेकिन अधिकांश बंद हो गए हैं। सूत्रों के मुताबिक आज पुलिस दिल्ली भी गई थी। दिल्ली में आलोक के होने की सूचना किसी ने दी थी। हालांकि वह मिला नहीं है। जल्द ही एक टीम उसके पटना स्थित पैत्रिक गांव भी जाएगी। अगर वह यहां जल्द नहीं मिला तो पुलिस टीम को नेपाल भी भेजा जाएगा। उसकी फोटोग्राफ तथा अन्य जानकारियां पहले ही नेपाल पुलिस को भेजी जा चुकी हैं।मकसूद और मुल्ला की तलाश में जिला पुलिस भी लगीचार साल से अधिक समय तक बंसल हत्याकांड का खुलासा न कर पाने वाली जिला पुलिस अब बचे शूटरों मकसूद और अबरार मुल्ला की तलाश में जुट गई हैं। क्राइम ब्रांच की एक टीम ने प्रतापगढ़ में दबिश दी है। अबरार और मकसूद के कई करीबियों से पूछताछ हो रही है। उनके संभावित ठिकानों के बारे में पता लगाया जा रहा है।पूरी लिखापढ़ी के बाद ही बन पाएगा वारंट बीलखनऊ एसटीएफ द्वारा गिरफ्तार शूटर शोएब से पूछताछ के लिए पुलिस वारंट बी के लिए अदालत में एप्लीकेशन देगी। इंस्पेक्टर कीडगंज रोशन लाल ने बताया कि अभी लिखा पढ़ी का काम चल रहा है। पूरा होने के बाद अदालत में एप्लीकेशन दिया जाएगा।

विस्तार

बंसल हत्याकांड के मुख्य आरोपी आलोक सिन्हा की तलाश में बुधवार को पुलिस टीम नोएडा पहुंच गई है। उसके बारे में उसके परिचितों से जानकारी इकट्ठी की जा रही है। गाजियाबाद में आलोक ने जहां आफिस खोला था, वहां भी पूछताछ की गई है। पुलिस वहां काम करने वालों से भी पूछताछ करेगी। उनकी भी तलाश की जा रही है। आफिस पिछले कई सालों से बंद है, इस कारण से वहां काम करने वालों की तलाश मुश्किल हो रही है। पुलिस टीम दिल्ली भी गई थी। जल्द ही पुलिस की अन्य टीमों को आलोक के पटना स्थित पैत्रिक गांव और नेपाल भी भेजा जाएगा।

 55 लाख के लेनदेन के मामले में डॉ. बंसल ने आलोक को जेल भेजवा दिया था। इसी का बदला लेने के लिए एडमीशन माफिया आलोक सिन्हा ने 70 लाख रुपये की सुपारी देकर बंसल की हत्या करवा दी थी। एसटीएफ ने दो दिन पहले प्रतापगढ़ के शूटर शोएब को गिरफ्तार किया तो मामले का खुलासा हो गया। एफआईआर में आलोक को मुख्य आरोपी बनाया गया है। पुलिस उसी दिन से आलोक की खोजबीन में जुटी है। सूत्रों के मुताबिक आलोक की तलाश में पुलिस टीम ने नोएडा और गाजियाबाद में छापा मारा।

prayagraj news : Dr. Ak Bansal (File Photo)
– फोटो : prayagraj

नोएडा में वह रहता था। गाजियाबाद में उसका आफिस था। बंसल की हत्या के बाद से ही वह अपने परिवार के साथ गायब है। पुलिस को आशंका है कि वह कहीं नाम बदलकर रह रहा है। पुलिस ने नोएडा और गाजियाबाद में उसके परिचितों से पूछताछ की। सभी का यही कहना था कि वह सालों से नहीं मिला है। उसका आफिस भी बंद है। वहां काम करने वालों के बारे में भी जानकारी इकट्ठी जा रही है।पुलिस के पास आलोक का पुराना मोबाइल नंबर है। उसकी कॉल डीटेल्स से भी पुलिस को कई जानकारियां मिली हैं। कई लोगों के नंबर मिले हैं लेकिन अधिकांश बंद हो गए हैं। सूत्रों के मुताबिक आज पुलिस दिल्ली भी गई थी। दिल्ली में आलोक के होने की सूचना किसी ने दी थी। हालांकि वह मिला नहीं है। जल्द ही एक टीम उसके पटना स्थित पैत्रिक गांव भी जाएगी। अगर वह यहां जल्द नहीं मिला तो पुलिस टीम को नेपाल भी भेजा जाएगा। उसकी फोटोग्राफ तथा अन्य जानकारियां पहले ही नेपाल पुलिस को भेजी जा चुकी हैं।मकसूद और मुल्ला की तलाश में जिला पुलिस भी लगीचार साल से अधिक समय तक बंसल हत्याकांड का खुलासा न कर पाने वाली जिला पुलिस अब बचे शूटरों मकसूद और अबरार मुल्ला की तलाश में जुट गई हैं। क्राइम ब्रांच की एक टीम ने प्रतापगढ़ में दबिश दी है। अबरार और मकसूद के कई करीबियों से पूछताछ हो रही है। उनके संभावित ठिकानों के बारे में पता लगाया जा रहा है।पूरी लिखापढ़ी के बाद ही बन पाएगा वारंट बीलखनऊ एसटीएफ द्वारा गिरफ्तार शूटर शोएब से पूछताछ के लिए पुलिस वारंट बी के लिए अदालत में एप्लीकेशन देगी। इंस्पेक्टर कीडगंज रोशन लाल ने बताया कि अभी लिखा पढ़ी का काम चल रहा है। पूरा होने के बाद अदालत में एप्लीकेशन दिया जाएगा।