Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

Pratapgarh news : फटा कुर्ता दिखाकर जमीन लेटे BJP विधायक, SP पर लगाए गंभीर आरोप, DM आवास पर घंटों चला ड्रामा

Pratapgarh news : फटा कुर्ता दिखाकर जमीन लेटे BJP विधायक, SP पर लगाए गंभीर आरोप, DM आवास पर घंटों चला ड्रामा

हाइलाइट्स:धीरज ओझा प्रतापगढ़ जिले में रानीगंज से भारतीय जनता पार्टी के विधायक हैंबीजेपी विधायक फटा हुआ कुर्ता दिखाकर आरोप लगा रहे हैं कि जिले के एसपी ने उन्हें ऑफिस में मारा हैवीडियो में विधायक सड़क पर लेटे हुए नजर आ रहे हैंधीरेन्द्र प्रताप सिंह, प्रतापगढप्रतापगढ़ जिले में रानीगंज विधान सभा सीट से बीजेपी विधायक अभय कुमार उर्फ धीरज ओझा मतदाता सूची में धांधली का आरोप लगाकर डीएम आवास पर धरने पर बैठ गए। विधायक ने अपना कुर्ता फाड़ डाला और जमीन पर लेट गए। इसके सााथ ही उन्होंने एसपी आकाश तोमर पर पिटाई का आरोप लगा डाला।डीएम के आने के बाद अंदर चैंबर में हाई वोल्टेज ड्रामा चला। इसके बाद बीजेपी विधायक चैंबर से बाहर निकले तो शरीर पर कपड़े नहीं थे। दरअसल धीरज ओझा प्रतापगढ़ जिले में रानीगंज से भारतीय जनता पार्टी के विधायक हैं। विधायक जिस वक्त हंगामा कर रहे थे उस दौरान मौके पर पुलिसकर्मियों की मौजूदगी भी नजर आ रही है। विधायक ने आरोप लगाया कि एसपी ने उनकी पिटाई की। उन्हें मारा-पीटा और उन्हें धमकाया भी इसके बाद से डीएम आवास पर विधायक के कार्यकर्ता की भीड़ उमड़ पड़ी और सभी डीएम, एसपी का मुर्दाबाद का नारा लगाने लगे। हालांकि जिला अधिकारी ने विधायक धीरज ओझा को लेकर फिर से चैंबर में चले गए। विधायक धीरज ओझा ने लगाए प्रशासन पर आरोपविधायक का आरोप है कि कुछ ऐसे लोग हैं जिनके खिलाफ गुंडा एक्ट सहित कई मुकदमे हैं फिर भी डीएम ने चुनाव को लेकर कोई कारवाई नहीं की। उनके द्वारा ऐसे लोगों के बारे में सूचना देने के बाद भी प्रशासन ने संज्ञान नहीं लिया। इसके साथ ही बहुत से ऐसे लोगों का नाम मतदाता सूची में नहीं आ सका जो पात्र मतदाता हैं। उन्होंने डीएम को ऐसे पात्रों की सूची दी थी पर प्रशासन ने उस पर कदम नहीं उठाया।प्रदेश अध्यक्ष के कहने के बाद शांत हुआ मामला विधायक के धरने पर बैठ जाने से राजनीतिक व प्रशासनिक गलियारे में खलबली मच गई। पहले डीएम की ओर से एडीएम शत्रोहन वैश्य ने विधायक धीरज ओझा को मनाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माने, उनका कहना है कि जब तक उनकी मांगों पर त्वरित कार्रवाई नहीं होती वह धरने पर बैठे रहेंगे। बाद में प्रदेश अध्यक्ष के हस्तक्षेप के 2 घंटे बाद मामला शांत हुआ।एसपी बोले-झूठ आरोप लगा रहे हैं विधायकएसपी आकाश तोमर ने कहा कि विधायक डीएम आवास पर वोटर लिस्ट में गड़बड़ी का आरोप लगाकर उनके डीएम के खिलाफ धरने पर बैठे थे। जब मेरे द्वारा दुर्व्यवहार करने से मना किया गया तो कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर झूठा आरोप लगा रहे हैं। संपूर्ण प्रकरण से पुलिस का कोई संबंध नहीं है।यूपी पंचायत चुनाव में बीजेपी ने मुलायम की भतीजी को दिया टिकट बीजेपी विधायक ने लहराया फटा कुर्ता और जमीन पर लेट कर किया प्रदर्शन