रायपुर में पिछले दिनों सीईओ अवार्ड्स का समापन हुआ…जिसमें उद्योग जगत में काम करने वाले लोगों को सम्मानित किया गया..इस दौरान सीएम रमन सिंह के प्रमुख सचिव अमन सिंह ने छत्तीसगढ़ के जन्म से लेकर विकास तक की ऐसी स्पीच दी कि इस समारोह में आया हर शख्स कुछ पलों के लिए खो सा गया..स्पीच थी छत्तीसगढ़ के विकास और सीएम रमन सिंह के मेहनत की..इस स्पीच में अमन सिंह ने जो उदाहरण दिए वो लाजवाब थे..मकसद था सीएम रमन सिंह की दूरदृष्टि और मेहनत को थोड़े से समय में उद्योग घरानों के बीच लाना…अमन सिंह ने स्पीच की शुरुआत टीम इंडिया के उस ड्रीम टीम से की..छत्तीसगढ़ का जन्म 1 नवंबर 2000 को हुआ था, लेकिन 2003 में पहली बार छत्तीसगढ़ के लोगों को उनके चीफ मिनिस्टर रमन सिंह मिले, आप लोगों में बहुतों के लिए 2003 क्रिकेट वर्ल्ड कप की यादों से जुड़ा होगा, जो दक्षिण अफ्रीका में हुआ था। जो शायद फिर कभी नहीं बन सकती इस टीम में सचिन, सहवाग , गांगुली, लक्ष्मण, राहुल और कुंबले जैसे सितारे थे और ये टीम विश्व के महानतम क्रिकेट टीमों के बीच एक साउथ अफ्रीका वर्ल्ड कप में अपने जलवे बिखेर रही थी..ठीक इसी समय नवंबर में प्रदेश में पहली बार चुनाव हुए और लोगों ने अपने प्रदेश के मुखिया को चुना..जो थे सीएम रमन सिंह…2003 से आज तक रमन सिंह पिछले 15 सालों से लगातार लोगों के लिए काम कर रहे हैं..जिसका नतीजा भी साफ दिख रहा है…और इन पंद्रह सालों में 2003 की क्रिकेट टीम के लगभग सभी खिलाड़ी रिटायर हो गए..15 साल बहुत लंबा समय होता है, जबकि धोनी ने अपना डेब्यू किया था 2004 में…वो भी कप्तानी छोड़ चुके हैं….लेकिन डाक्टर रमन सिंह चीफ मिनिस्टर बने थे 2003 में, वो आज भी मुख्यमंत्री बने हुए हैं,….चाहे क्रिकेट की बात करो ये पॉलिटिक्स की… लंबी पारी बहुत बड़ी चुनौती होती है,…..और क्यों हम सिर्फ पालिटिक्स और क्रिकेट की बात करें..बिजनेस में भी, नोकिया 2003 में सबसे बड़ा ब्रांड था…इंटरनेट की दुनिया में याहू सबसे बड़ा नाम था…दोनों के ही अस्तित्व पर आज संकट है। 2003 में जीमेल नहीं आया था, फेसबुक का तो जन्म ही नहीं हुआ था, उसका जन्म फरवरी 2004 में हुआ।आज के वक्त की सबसे ग्लैमरस मॉम करीना कपूर की पहली हिट मूवी कभी खुशी, कभी गम 2003 में आयी थी…अनुष्का शर्मा 2003 में क्यूट हाईस्कूल स्टूडेंट थी, दीपिका पादुकोण 2003 में नई बैडमिंटन खिलाड़ी थीं…लेकिन 15 सालों में सब किसी के लिए बहुत कुछ बदल गया, लेकिन कैसे ये 15 साल डाक्टर रमन सिंह ने इतने शानदार तरीके छत्तीसगढ़ के विकास और विस्तार में गुजारे, ये बेहद हैरान करता है।आप लोगों में बहुत से लोग इसलिए छत्तीसगढ़ से जुड़े होंगे, क्योंकि ये प्रदेश माइनिंग और मिनरल के लिए बेस्ट है। हां, हमारे पास देश का 18 फीसदी आयरन ओर, 17 फीसदी कोयला, 8 प्रतिशत डोलोमाइट और 100 फीसदी टीन है, मगर ये सब संसाधन हमारे प्रकृति को प्रभावित कर रही है। ऐसे ही कुछ हालात रहे थे अफ्रीका के भी। छत्तीसगढ़ में 50 प्रतिशत हिस्सा जंगल है, 44 प्रतिशत आदिवासी यहां रहते हैं..35 प्रतिशत लोग गरीबी रेखा से नीचे हैं। किस तरह की पॉलिसी आप बनायेंगे, क्या आपको औद्योगिकीकरण का विस्तार करना या फिर गरीबों की तरफ ध्यान देना है… ये बहुत बड़ी चुनौती है, किसी भी राजनेता के लिए । समाजिक आर्थिक नीति, विकास की नीति और अपने राज्य को ऊंचे मुकाम पर ले जाने में मुख्यमंत्री रमन सिंह की दूरदर्शिता रही है।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.

Lok Shakti

FREE
VIEW