प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने आज नोएडा को दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री की सौगात दी. दोनों नेताओं ने संयुक्त रूप से फीता काटकर इस प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया.

नोएडा स्थित सैमसंग मोबाइल कंपनी के इस कार्यक्रम में पीएम मोदी और साउथ कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने इस प्रोजेक्ट के बारे में बताया. पीएम मोदी ने कहा कि इस फैक्ट्री से जहां रोजगार के अवसर पैदा होंगे, वहीं यह यूनिट मेक इन इंडिया को भी गति देगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर कहा कि इस यूनिट में आना मेरे लिए सौभाग्य की बात है. मोदी ने इस यूनिट के लिए सैमसंग को बधाई दी. उन्होंने कहा कि 5 हजार करोड़ का यह निवेश सैमसंग के साथ-साथ दोनों देशों के रिश्तों को भी मजबूत करेगा. उन्होंने कहा कि भारत में शायद ही कोई ऐसा परिवार होगा, जहां कोरियाई प्रोडक्ट न हो. आज भारत में लगभग 40 करोड़ स्मार्ट फोन का इस्तेमाल किया जा रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि इस कंपनी के साथ ही देश में मेक इन इंडिया को गति मिलेगी. उन्होंने कहा कि मोबाइल मैनुफैक्चरिंग में भारत दूसरे नंबर पहुंच गया है. मोबाइल फैक्ट्रियों की संख्या 2 से बढ़कर 120 पहुंच गई है, जिनमें से 50 से ज्यादा सिर्फ नोएडा में ही है. इससे 4 लाख से  अधिक नौजवानों को सीधे रोजगार मिला है. उन्होंने बताया कि इस यूनिट में हर महीने करीब 1 करोड़ मोबाइल फोन बनेंगे, जिसका 30 फीसदी एक्सपोर्ट किया जाएगा.

मेट्रो से पहुंचे नोएडा

इससे पहले पीएम मोदी ने मून जे इन के साथ मेट्रो में सफर किया. वो दिल्ली के मंडी हाउस मेट्रो स्टेशन से नोएडा के बॉटेनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन तक मेट्रो से पहुंचे. इस दौरान उनके साथ साउथ कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन भी रहे. वहीं, दोनों नेता गांधी स्मृति भी गए. जहां उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पसंदीदा भजन सुने.

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.

Lok Shakti

FREE
VIEW