नेपाल विमान हादसे में मारे गए गाजीपुर के युवकों के शव लेकर भारत आ रहा परिवार, मंगलवार को होगा अंतिम संस्कार - Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

नेपाल विमान हादसे में मारे गए गाजीपुर के युवकों के शव लेकर भारत आ रहा परिवार, मंगलवार को होगा अंतिम संस्कार

नेपाल विमान हादसे में मारे गए गाजीपुर के युवकों के शव लेकर भारत आ रहा परिवार, मंगलवार को होगा अंतिम संस्कार

नेपाल विमान हादसे में मारे गए चारों युवकों की डेड बॉडी शिनाख्त कर ली गई है। इसके लिए उनके कपड़े, जूते और अन्य सामान का सहारा लिया गया। इस बात की पुष्टि जिलाधिकारी गाजीपुर ने की है। प्रशासन की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार मंगलवार को चारों शवों उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

 

हाइलाइट्सनेपाल प्लेन क्रैश में मारे गए युवकों का शव पहुंचेगा गाजीपुरपरिवार नेपाल से सभी के शव लेकर भारत के लिए निकलागाजीपुर डीएम ने बताया कि मंगलवार को होगा अंतिम संस्कारगाजीपुर: नेपाल में हुए विमान हादसे में कुल 72 लोगों की जानें गई थी, जिनमें से चार भारतीय गाजीपुर के रहने वाले थे। मृतकों की शवों की स्थिति खराब होने की सूरत में शवों की शिनाख्त के लिए उनके परिजन को जिला प्रशासन की ओर से नेपाल भेजा गया था। पिछले कई दिनों से मृतकों के परिजन नेपाल में ही थे।गाजीपुर जिलाधिकारी ने इस बाबत मीडिया को जानकारी देते हुए बताया है कि सोमवार की दोपहर मृतकों के शव लेकर परिजन नेपाल से चल पड़े हैं। मंगलवार को मृतकों का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

जिलाधिकारी गाजीपुर आर्यका अखौरी ने मीडिया को बताया कि एंबेसी उनकी बातचीत हुई है। इसके बाद पुष्टि हो पाई है कि चारों मृतकों की डेड बॉडी की शिनाख्त कर ली गई है। जिलाधिकारी ने बताया कि शवों को उनके परिजन लेकर सोमवार की दोपहर 1:30 बजे नेपाल से गाजीपुर के लिए रवाना हो चुके हैं। ऐसी सूरत में मंगलवार को सभी डेड बॉडी गाजीपुर पहुंच जाएंगी। प्रशासन की ओर से पूरी तैयारियां कर ली गई हैं। डेड बॉडी के आने के साथ ही अंतिम संस्कार पूरे सम्मान के साथ किया जाएगा। एक सवाल के जवाब में जिलाधकारी ने बताया कि कांग्रेस की ओर से मृतकों के परिजनों को नौकरी और 50 लाख का मुआवजा देने का ऐलान नीतिगत मामला है। शासन को इस बाबत प्रस्ताव भेज दिया जाएगा। शासन से मिले दिशा निर्देश के अनुरूप आगे की कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल सीएम योगी की ओर से 5 लाख की सहायता राशि दिए जाने का ऐलान किया गया है, जिसे मृतकों के परिजनों को दे दिया जाएग।प्लेन क्रैश के बाद जूते, कपड़े से हुए शवों की पहचानजिलाधिकारी ने बताया कि शवों को नेपाल से लाने का खर्च और अन्य इंतजाम प्रशासन की ओर से किए जाएंगे। उन्होंने यह भी बताया कि शवों की स्थिति बेहद खराब थी। शवों की शिनाख्त जूते, कपड़े और आभूषण आदि के आधार पर मृतकों के परिजन ने की है।
रिपोर्ट – अमितेश सिंह
अगला लेखमुख्तार अंसारी ने जिसे उसरी चट्टी कांड में आरोपी बताया था उसके पिता ने दर्ज कराया केस, जानिए क्यों रुकी सुनवाई

आसपास के शहरों की खबरें

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐपलेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें