मुख्यमंत्री ने क्षेत्र के विकास के लिए दी अनेक सौगातें - Lok Shakti.in

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

मुख्यमंत्री ने क्षेत्र के विकास के लिए दी अनेक सौगातें

6 16

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ग्राम धरसींवा विधानसभा के ग्राम चरोदा में आयोजित भेंट-मुलाकात में क्षेत्र के विकास के लिए अनेक महत्वपूर्ण घोषणाएं की। मुख्यमंत्री ने ग्राम सिलियारी को नगर पंचायत बनाने, धरसींवा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डिजिटल एक्सरे मशीन उपलब्ध कराने, धरसींवा में महिला प्रशिक्षण हेतु सर्व सुविधा युक्त भवन निर्माण, ग्राम पंचायत धरसींवा में नवीन पंचायत भवन के निर्माण, ग्राम पंचायत गोढ़ी-कुरूद मार्ग के निर्माण, ग्राम पंचायत पंडरभट्ठा में मिनी स्टेडियम के निर्माण, ग्राम पंचायत सारागांव में उप तहसील, सेरीखेड़ी के हाईस्कूल के हायर सेकेंडरी में उन्नयन, आमासिवनी की पूर्व माध्यमिक शाला के हाई स्कूल में उन्नयन, ग्राम जोरा में श्मशान घाट सौंदर्यीकरण, शेड निर्माण, प्रतीक्षालय निर्माण, तालाब गहरीकरण एवं पचरीकरण की घोषणा की। इसी तरह उन्होंने ग्राम कचना और तेन्दुआ में मिनी स्टेडियम के निर्माण, चरोदा में हायर सेकेंडरी स्कूल,  चरोदा में मंगल भवन एवं शमशान में बाउंड्री वॉल निर्माण, सकरी में प्राइमरी शाला की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने भेंट-मुलाकात स्थल पर छत्तीसगढ़ महतारी के छायाचित्र पर दीप प्रज्जवलन, माल्यार्पण एवं छत्तीसगढ़ के राज्यगीत के साथ कार्यक्रम की शुरुआत की। इस अवसर पर विधायक श्रीमती अनिता योगेन्द्र शर्मा सहित अनेक जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि वे भेंट-मुलाकात में राज्य शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी लेने हर विधानसभा में जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार धान से एथेनॉल बनाने के लिए केन्द्र से चार साल से अनुमति मांग रही है, लेकिन अनुमति नहीं मिली। यदि अनुमति मिलती है तो किसानों का सारा धान खरीदेंगे। उन्होंने चरोदा से आत्मीय रिश्ता जोड़ते हुए मजाकिया लहजे में कहा कि मैं अपनी ससुराल आया हूं। सब कका कह रहे हैं। कोई फूफा नहीं कह रहा है। मुख्यमंत्री ने एक-एक योजनाओं पर सीधे ग्रामीणों से फीड बैक लिया।

भेंट-मुलाकात में मुख्यमंत्री श्री बघेल को किसान श्री कुमार वर्मा ने बताया कि उनके पास 35 एकड़ खेत है, उनका 3 लाख 65 हजार 680 रुपए का ऋण माफ हुआ है। राजीव गांधी किसान न्याय योजना की 3 किश्त भी मिल गई है, इस पैसे से ट्यूबवेल कराया हूं, 5 एचपी का पंप लगाया हूं। खेत में तार घेरा भी करवाया हूं। श्री कुमार वर्मा ने सड़क में डेढ़ एकड़ ज़मीन पर मुआवज़ा नहीं मिल पाने की बात की है, जिस पर मुख्यमंत्री ने क्लेक्टर को आवश्यक कार्रवाई कर निराकरण के निर्देश दिए हैं। किसान श्री कन्हैया लाल साहू ने बताया कि उन्हें राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की एक किश्त मिल गई है, बाकी नहीं मिल पाई है। मुख्यमंत्री ने इनकी शिकायत पर क्लेक्टर को जांच के निर्देश दिए।