Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

Agra: शाहगंज में मामूली बात पर दो पक्षों में मारपीट, फायरिंग से फैली दहशत, आठ आरोपी गिरफ्तार

Agra: शाहगंज में मामूली बात पर दो पक्षों में मारपीट, फायरिंग से फैली दहशत, आठ आरोपी गिरफ्तार

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

आगरा के शाहगंज क्षेत्र के सिब्द साहनी नगर में सोमवार रात को मामूली बात पर दो पक्ष आमने-सामने आ गए। इसके बाद मारपीट होने लगी। एक पक्ष ने दूसरे पर फायरिंग का आरोप लगाया। पुलिस ने पहुंचकर आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया। उन्हें जेल भेजा गया है।

सिब्द साहनी नगर निवासी लाल सिंह रिक्शे पर घर का सामान लेकर आ रहे थे। इसी दौरान मोहल्ले के विक्रम से रास्ते से निकलने के दौरान विवाद हो गया। दोनों पक्षों के लोग आ गए। उनमें मारपीट होने  लगी। आरोप है कि एक युवक ने तमंचे से फायरिंग की। सूचना पर पुलिस पहुंची।

शांति भंग में की गई कार्रवाई 

थाना शाहगंज के प्रभारी निरीक्षक जसवीर सिंह सिरोही ने बताया कि मौके से आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया। उनके खिलाफ शांति भंग में कार्रवाई की। इसके बाद मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया, जहां से सभी को जेल भेज दिया गया। 

ये आरोपी भेजे गए जेल

जेल भेजे गए लोगों में प्रदीप, रवि, अमन, अन्नू, सहदेव, अजय, उसका बेटा और सौरभ शामिल हैं। फायरिंग का आरोप गलत है। पुलिस कार्रवाई के विरोध में मंगलवार सुबह कुछ लोग सीओ लोहामंडी के कार्यालय भी पहुंचे। उन्होंने पुलिस पर गलत कार्रवाई का आरोप लगाया। 

विस्तार

आगरा के शाहगंज क्षेत्र के सिब्द साहनी नगर में सोमवार रात को मामूली बात पर दो पक्ष आमने-सामने आ गए। इसके बाद मारपीट होने लगी। एक पक्ष ने दूसरे पर फायरिंग का आरोप लगाया। पुलिस ने पहुंचकर आठ लोगों को गिरफ्तार कर लिया। उन्हें जेल भेजा गया है।

सिब्द साहनी नगर निवासी लाल सिंह रिक्शे पर घर का सामान लेकर आ रहे थे। इसी दौरान मोहल्ले के विक्रम से रास्ते से निकलने के दौरान विवाद हो गया। दोनों पक्षों के लोग आ गए। उनमें मारपीट होने  लगी। आरोप है कि एक युवक ने तमंचे से फायरिंग की। सूचना पर पुलिस पहुंची।

शांति भंग में की गई कार्रवाई 

थाना शाहगंज के प्रभारी निरीक्षक जसवीर सिंह सिरोही ने बताया कि मौके से आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया। उनके खिलाफ शांति भंग में कार्रवाई की। इसके बाद मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया, जहां से सभी को जेल भेज दिया गया। 

ये आरोपी भेजे गए जेल

जेल भेजे गए लोगों में प्रदीप, रवि, अमन, अन्नू, सहदेव, अजय, उसका बेटा और सौरभ शामिल हैं। फायरिंग का आरोप गलत है। पुलिस कार्रवाई के विरोध में मंगलवार सुबह कुछ लोग सीओ लोहामंडी के कार्यालय भी पहुंचे। उन्होंने पुलिस पर गलत कार्रवाई का आरोप लगाया। 

%d bloggers like this: