Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

मांडर उपचुनाव: वोटिंग गुरुवार को, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

मांडर उपचुनाव: वोटिंग गुरुवार को, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

Ranchi: मांडर उपचुनाव को लेकर गुरुवार को वोटिंग होगी. इसकी तैयारी पूरी कर ली गयी है. शांतिपूर्वक और निष्पक्ष चुनाव हो, इसे लेकर सभी बूथों पर भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गयी है. संवेदनशील बूथों पर सीआरपीएफ बलों तैनात किया गया है. मांडर उपचुनाव में कुल 433 मतदान केंद्रों के लिए 1732 मतदान कर्मी और लगभग 3000 पुलिस बल तैनात किये गये. मतदान केंद्रों में 145 अतिसंवेदनशील बूथ हैं, जबकि 216 संवेदनशील बूथ और वनरेबल बूथों की संख्या 55 है. 433 मतदान केंद्रों के 100 मीटर के दायरे पर धारा 144 लगाने का आदेश दे दिया गया है. साथ ही अगर किसी व्यक्ति को मतदान केंद्र में किसी से शिकायत है तो वह सी-विजील के माध्यम से ऑनलाइन शिकायत कर सकता है.

बोगस वोटिंग पर रहेगी नजर, 38 पर्दानशीन बूथ बनाए गए

मांडर विधानसभा उपचुनाव में बोगस मतदान रोकने के लिए 38 पर्दानशीन बूथ बनाए गए हैं. सभी पर्दानशीन बूथ पर महिला मतदानकर्मी की तैनात की गयी है, ताकि किसी महिला के द्वारा किसी भी तरह का बोगस मतदान ना किया जा सके. इस तरह की व्यवस्था पहली बार लागू की जा रही है. इस पूरे 38 बूथों पर 38 महिलाओं के अलावा 19 पुरुष भी शामिल हैं. इसमें सबसे ज्यादा पर्दानशीं दूत चान्हो में 16, मांडर में 6, बेड़ों में 6, लापुंग में 3, इटकी में 7 पर्दानशीं बूथ बनाए गए हैं.

इसे भी पढ़ें-  भारतीय महिला हॉकी टीमों ने USA और UKRAINE के खिलाफ जीत दर्ज की, झारखंड की संगीता और ब्यूटी  डुंगडुंग का शानदार प्रदर्शन

लगातार को पढ़ने और बेहतर अनुभव के लिए डाउनलोड करें एंड्रॉयड ऐप। ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे

पोलिंग पार्टियां बूथों पर पहुंची

वोटिंग को लेकर बुधवार को पोलिंग पार्टियों का डिस्पैच किया गया, जो मतदान स्थलों पर पहुंच गये हैं. डिस्पैच से पहले रांची डीसी छवि रंजन और एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने मतदान कर्मियों को ब्रीफिंग की. ब्रीफिंग के दौरान मतदान संबंधित पूरी जानकारी दी गई. मतदान कर्मियों को कहा गया कि गुरुवार को मॉक पोलिंग के दौरान ही ईवीएम मशीन को चालू करना है.

इसे भी पढ़ें- मांडर उपचुनाव : रूरल एसपी ने की जवानों की ब्रीफ्रिंग, कहा- किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पुलिस तैयार

 

आप डेली हंट ऐप के जरिए भी हमारी खबरें पढ़ सकते हैं। इसके लिए डेलीहंट एप पर जाएं और lagatar.in को फॉलो करें। डेलीहंट ऐप पे हमें फॉलो करने के लिए क्लिक करें।

%d bloggers like this: