Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

Aligarh News: अलीगढ़ में जामा मस्जिद को लेकर RTI दाखिल करने वाले एक्टिविस्ट पर केस दर्ज, धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप

Aligarh News: अलीगढ़ में जामा मस्जिद को लेकर RTI दाखिल करने वाले एक्टिविस्ट पर केस दर्ज, धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप

अलीगढ़: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में जामा मस्जिद प्रकरण में RTI कार्यकर्ता केशव देव के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने को लेकर मुकदमा दर्ज हुआ है। इस संबंध में नोटिस तामील कराने गई पुलिस टीम के साथ धक्का मुक्की की भी जानकारी मिली है। केशव देव ने नगर निगम से RTI में मिली जानकारी के आधार पर प्रशासन से जामा मस्जिद पर कार्रवाई की मांग की थी।

क्या है पूरा मामला
23 जून 2021 को आरटीआई एक्टिविस्ट केशव देव ने अलीगढ़ नगर निगम से अलीगढ़ के ऊपर कोर्ट स्थित प्राचीन जामा मस्जिद के संबंध में विभिन्न बिंदुओं पर जानकारी मांगी थी। नगर निगम द्वारा दिए गए आरटीआई के जवाब में चौंकाने वाले तथ्य सामने आए थे। जिसमें बताया गया है कि जामा मस्जिद सार्वजनिक भूमि पर बनी हुई है। इसका मालिकाना हक किसी विशेष व्यक्ति के पास नहीं है। जामा मस्जिद निर्माण के संबंध में कोई अभिलेख नगर निगम पास उपलब्ध नहीं है।

मस्जिद हटाने की हुई थी मांग
आरटीआई एक्टिविस्ट केशव देव ने प्रशासन को पत्र लिखकर मांग की थी कि आरटीआई में सामने आए तथ्यों के आधार पर जामा मस्जिद सार्वजनिक स्थल पर बनी हुई है। अगर ऐसा है तो जिस तरह अन्य अवैध अतिक्रमण हटाए जाते हैं, उसी तरह इसे भी हटाया जाए।

मामले में आया सियासी रंग
इसके बाद मामले ने सियासी तूल पकड़ लिया था। इस संबंध में बयान देते हुए भाजपा की पूर्व मेयर शकुंतला भारती ने कहा था कि नगर से आरटीआई में मिली जानकारी से ये साबित होता है कि जामा मस्जिद का निर्माण सार्वजनिक स्थल पर किया गया है। इसलिए यहां भी उसी तरह कार्रवाई होनी चाहिए जिस तरह अन्य अवैध अतिक्रमणों पर होती है। जामा मस्जिद को गिराया जाना चाहिए।

वहीं शहर मुफ्ती के प्रवक्ता गुलजार अहमद ने जानकारी देते हुए बताया था कि जामा मस्जिद उत्तर प्रदेश सुन्नी वक्फ बोर्ड में दर्ज है। वहीं जामा मस्जिद के मुतवल्ली हाजी सूफियान का कहना है कि जामा मस्जिद 300 साल पुरानी है। इसका निर्माण मुगलकाल में कराया गया था। अब पुलिस ने RTI एक्टिविस्ट के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। केशव देव को नोटिस तामील कराने गई बन्ना देवी पुलिस टीम के साथ झड़प होने की बात भी सामने आई है।

थाना बन्ना देवी इंस्पेक्टर ने बताया कि RTI एक्टिविस्ट पर धार्मिक भावनाएं भड़काने को लेकर मुकदमा दर्ज हुआ है। इस संबंध में नोटिस तामील कराने गई पुलिस के साथ RTI एक्टिविस्ट ने धक्का मुक्की भी की।

%d bloggers like this: