Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

राज ठाकरे के अयोध्या दौरे पर सियासत तेज.. विनय कटियार और लल्लू सिंह का मिला समर्थन, नरम पड़े ब्रज भूषण शरण सिंह के तेवर

राज ठाकरे के अयोध्या दौरे पर सियासत तेज.. विनय कटियार और लल्लू सिंह का मिला समर्थन, नरम पड़े ब्रज भूषण शरण सिंह के तेवर

अयोध्या: मनसे के प्रमुख राज ठाकरे के 5जून को अयोध्या दौरे को लेकर जहां बीजेपी के कैसरगंज के बीजेपी एमपी बृजभूषण शरण सिंह उनके खिलाफ विरोधी मुहिम चला रहे हैं। वहीं अभी तक बीजेपी का कोई भी बड़ा नेता उनके समर्थन में सामने नहीं आ रहा है। बृजभूषण शरण सिंह कहते भी हैं कि इस विरोध आंदोलन से बीजेपी का कोई लेना देना नहीं।यह उनका निजी फैसला है। उल्टे अयोध्या के बीजेपी सांसद लल्लू सिंह राज ठाकरे के अयोध्या दौरे का समर्थन कर स्वागत करने की तैयारी में हैं।

लल्लू सिंह ने एक और बयान जारी कर रामायण की चौपाइयों को उद्धृत कर कहा कि राम लला के दर्शन को आने वाले को रोकना पाप होगा। उन्होंने फिर दोहराया कि वे राज ठाकरे के अयोध्या आने पर उनका स्वागत करेंगे क्योंकि अयोध्या का सांसद होने के नाते वे यहां दर्शन करने वाले के सेवक की भूमिका में हैं।

इस बीच शुक्रवार को मंदिर आंदोलन में प्रमुख भूमिका निभाने वाले पूर्व राज्य सभा सांसद विनय कटियार ने भी अपना रूख साफ करते हुए कहा कि राज ठाकरे राम लला का दर्शन करने आ रहे हैं। उनका विरोध करना ग़लत है।जो भी राम लला की शरण में आए उसका विरोध नहीं स्वागत होना चाहिए। इतना क्या कम है कि वे अभी तक राम लला का दर्शन करने नहीं आए थे, अब आ रहे हैं। माफ़ करने की बात नहीं।

ठाकरे परिवार को भाईचारा मजबूत करने के लिए यूपी के लोगों का मददगार बनकर महाराष्ट्र में काम करना चाहिए। बजरंग दल के संस्थापक अध्यक्ष कटियार ने कहा कि विरोध नहीं भाईचारा कायम करने से यूपी का भला होगा।

Raj Thackeray: माफी मांगने पर भी अयोध्या में नहीं घुस पाएंगे राज ठाकरे.. बृजभूषण सिंह ने फिर दी धमकी

ब्रज भूषण शरण सिंह का बदला रूख
उधर बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह हालांकि राज ठाकरे को अयोध्या में न घुसने देने के लिए लोगों का जनसमर्थन जुटाने में लगे हैं। लेकिन उनके विरोध व माफी मांगने को लेकर भी बदलाव दिख रहा है। पहले वे उत्तर भारतीयों से माफी मांगने की मांग कर रहे थे। अयोध्या के संतों का समर्थन हासिल करने पहुंचे तो रूख बदला और कहा उत्तर भारतीयों की जगह संतों से ही माफी मांग लें कि अब यूपी के लोगों का उत्पीड़न उनकी पार्टी नहीं करेगी तब भी हम उनका विरोध नहीं करेंगे।

ब्रज भूषण शरण सिंह बोले-ऐसा कर लें तब कोई दिक्कत
अब उनका कहना है कि संतों से भी अगर राज ठाकरे माफी नहीं मांगते तो पीएम मोदी अथवा बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व से ही माफी मांग लें। तो उनके अयोध्या दौरे का विरोध नहीं करेंगे। इधर बीजेपी के पदाधिकारियों ने चुप्पी साध कर बीजेपी के अयोध्या के सांसद लल्लू सिंह व विनय कटियार के साथ खड़े दिख रहें हैं।ऐसा समझा जा रहा है बीजेपी की पार्टी लाइन राज ठाकरे के अयोध्या दौरे के विरोध पक्ष में खड़ी नहीं दिखती।

%d bloggers like this: