अयोध्या: विवादित जमीन पर बनेगा राम मंदिर, SC के फैसले पर मध्यप्रदेश के प्रमुख नेताओं प्रतिक्रिया

अयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले को लेकर मध्यप्रदेश से संबंधित विभिन्न राजनेताओं की प्रतिक्रियाएं आयी हैं और वे सब काफी संतुलित हैं।  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने ट्वीट कर कहा कि वर्षों से चले आ रहे इस मामले में उच्चतम न्यायालय का फैसला स्वागतयोग्य है। उन्होंने सभी से फैसले का सम्मान करते हुए देश में शांति और सौहार्द्र बनाए रखने का अनुरोध किया है। 

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मौके पर कहा, माननीय सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का हम सभी सम्मान करें, आदर करें और स्वागत करें। किसी की हार नहीं हुई है। हमारे देश ने सदैव दुनिया को शांति का संदेश दिया है। मैं सभी देश और प्रदेशवासियों से अपील करता हूँ कि आपस में एकता, प्रेम, सद्भाव और भाईचारा बनाए रखें।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट में कहा कि उच्चतम न्यायालय के फैसले का वे सम्मान करते हैं। सभी को इस फैसले को पूरी गंभीरता और धैर्य से स्वीकार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हम सबकी जिम्मेदारी है कि इस फैसले के बाद आपसी सौहार्द्र, भाईचारा और अमन चैन की नींव पर मजबूती से खड़े हमारे देश में शांति और सछ्वाव कायम रहे।

सिंधिया ने कहा कि हम सब मिलकर एक दूसरे का हाथ थामकर प्रेम और परस्पर विश्वास की भावना से देश को आगे बढ़ाएं। पूर्व मंत्री एवं भाजपा नेता श्रीमती माया सिंह ने कहा कि वे भी इस फैसले का स्वागत करते हुए सभी से शांति बनाए रखने की अपील करती हैं। 

राज्य के उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि न्यायालय के निर्णय के आगे हम सब नतमस्तक हैं। निश्चित है इस निर्णय से देश का धर्मनिरपेक्ष ढांचा मजबूत होगा। राष्ट्र की एकता और अखंडता में वृद्धि होगी।  पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हम सभी को फैसला मयार्दा में रहकर ही स्वीकार करना चाहिए। सभी राज्य की गंगा जमुनी तहजीब का परिचय देते हुए शांति बरकरार रखें। 

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.

Lok Shakti

FREE
VIEW