वोडा-आइडिया-एयरटेल पर मिलती रहेगी फ्री कॉलिंग की सुविधा, जियो की तरह नहीं कराना होगा टॉप अप रिचार्ज

रिलायंस जियो के प्रीपेड और पोस्टपेड यूजर्स के लिए फ्री आउटगोइंग वॉयस कॉल्स को खत्म करने के बाद कई लोगों में भ्रम है कि बाकि कंपनियों में भी तो ये व्यवस्था लागू नहीं हो रही है। इसी भ्रम को दूर करने के लिए वोडाफोन आइडिया और एयरटेल ने ट्वीट के जरिए लोगों को बताया कि वे यूजर्स से अन्य नेटवर्क पर आउटगोइंग कॉल करने पर IUC (इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज) नहीं वसूलेगी। यूजर्स को वोडाफोन, आइडिया और एयरटेल अनलिमिटेड प्लान्स के साथ फ्री वॉइस कॉलिंग की सुविधा पहले की तरह ही मिलती रहेगी। इसके लिए कोई एडिशनल टॉप नहीं कराना होगा। आपको बता दें कि 10 अक्टूबर से रिलायंस जियो ने अपने प्रीपेड और पोस्टपेड यूजर्स के लिए फ्री आउटगोइंग वॉयस कॉल्स को खत्म कर दिया है।

अबतक 13500 करोड़ रुपए का IUC चार्ज दे चुकी है जियो

  1. जियो ग्राहकों हो चुकाने होंगे 6 पैसे प्रति मिनटअब जियो अपने यूजर्स से नॉन-जियो टेलीकॉम नेटवर्क पर कॉल करने पर 6 पैसे प्रति मिनट के हिसाब से इंटरकनेक्ट फीस वसूलेगी। ये चार्ज 10 अक्टूबर से ही लागू हो गए हैं। 
  2. क्या है इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज रिलायंस जियो ने यह कदम हर आउटगोइंग कॉल पर इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज (आईयूसी) को रिकवर करने के लिए उठाया है। इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज वह चार्ज होता है, जिसे टेलीकॉम ऑपरेटर को अपने सब्सक्राइबर्स द्वारा किसी अन्य नेटवर्क पर की जाने वाली आउटगोइंग कॉल्स पर उस ऑपरेटर को देना होता है।
    • इस चार्ज को ​जियो को अन्य ऑपरेटर्स को भुगतान करना होता है। इसके चलते जियो ने यूजर्स को फ्री वॉयस कॉल उपलब्ध कराने के लिए भारती एयरटेल, वोडाफोन आइडिया को इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज के तौर पर 13500 करोड़ रुपए का भुगतान किया है।
  3. 1 जनवरी 2020 से बंद हो सकता है ये चार्जजियो नेटवर्क पर इनकमिंग कॉल्स, जियो टू जियो आउटगोइंग कॉल्स और जियो नेटवर्क से लैंडलाइन फोन्स पर कॉल करना फ्री रहेगा।
    • रिलायंस जियो का कहना है कि हालांकि आईयूसी का भुगतान उसी वक्त तक करना होगा, जब​ तक ट्राई जीरो टर्मिनेशन चार्ज प्रणाली पर शिफ्ट न हो जाए।
    • ट्राई के प्रावधान के मुताबिक, आईयूसी के लिए जीरो टर्मिनेशन चार्ज प्रणाली 1 जनवरी 2020 से शुरू हो रही है।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.

Lok Shakti

FREE
VIEW