Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

UP Anganwadi Recruitment 2021: कब से आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय और सेवाएं स्वत: ही हो जाएंगी समाप्त, यहां से पढ़ें ये पूरी खबर

उत्तर प्रदेश आंगनवाड़ी भर्ती 2021

सार
UP Anganwadi Recruitment 2021: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, मिनी आंगनवाड़ी व सहायिका के पदों के लिए आवेदन प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। इस भर्ती में आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को अब इसकी मेरिट सूची जारी किए जाने का इंतजार बना हुआ है।

उत्तर प्रदेश आंगनवाड़ी भर्ती 2021
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश के 58 शहरों से भी अधिक जिलों में आंगनवाड़ी, मिनी आंगनवाड़ी और सहायिका के पदों पर भर्तियां निकाली गई थीं। इन भर्तियों के लिए ऑनलाइन मोड में आवेदन प्रक्रिया पूरी कराई जा चुकी है। भर्ती में आवेदन करने वाली महिला उम्मीदवारों को अब इसकी मेरिट सूची जारी किए जाने का इंतजार बना हुआ है। विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स में छपी खबरों से मिली जानकारी के अनुसार, अक्तूबर माह में इन पदों की मेरिट जारी कर दी जाएगी, जिसके बाद जल्द ही ग्रामीण इलाकों में बने आंगनवाड़ी केंद्रों में लंबे समय से खाली चल रहे आंगनवाड़ी, मिनी-आंगनवाड़ी व सहायिका पदों पर नियुक्ति कर दी जाएगी। इस मेरिट सूची को देखने के लिए यूपी बाल विकास पुष्टहार विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर विज़िट करते रहना चाहिए। साथ ही अगर आप  प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं तो ऐसे स्टूडेंट्स इन दिनों सफलता डॉट कॉम द्वारा FREE Current Affairs – Download Now चलाए जा रहे फ्री कोर्स का लाभ ले सकते हैं। इस कोर्स की मदद से उम्मीदवार अपने किसी भी एग्जाम का कंप्लीट रिवीजन और पक्की तैयारी कर सकते हैं। 

कब स्वयं ही बंद हो जाती हैं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की सेवाएं 
आंगनवाड़ी भर्ती के लिए जारी किए गए आधिकारिक नोटिफिकेशन के मुताबिक यदि किसी आवेदक की नियुक्ति के बाद आयु सीमा 62 वर्ष पूरी हो जाती है तो ऐसी स्थिति में उनकी मानदेय और सेवाएं स्वत: समाप्त हो जाएंगी। 

मेरिट के आधार पर होगा चयन, ऐसे बनेगी मेरिट 
अगर आपने भी यूपी आंगनवाड़ी भर्ती के लिए आवेदन किया है तो आपको इसके चयन प्रक्रिया के बारे में सारी जानकारी नीचे दिए गए बिंदुओं के द्वारा आसानी से समझ सकते हैं। 

अगर दो उम्मीदवारों की दसवीं के अंकों में समानता पाई जाती है तो ऐसी स्थिति में उच्च शैक्षणिक योग्यता वाले उम्मीदवार को वरीयता दी जाएगी। 
वह अभ्यर्थी जो आगनवाड़ी केंद्र की पंचायत के अंतर्गत निवास करता होगा उसे अन्य उम्मीदवारों की तुलना में प्राथमिकता दी जाएगी। 
अगर किन्हीं दो उम्मीदवारों की शैक्षिक योग्यता, निवास स्थान भी समान पाए जाते हैं तो ऐसे उम्मीदवारों में से जिसकी आयु सीमा अधिक होगी, उसे वरीयता प्रदान की जाएगी। 

कैसे शुरू करें तैयारी 
अगर आप भी घर पर रहकर अपनी प्रतियोगी परीक्षाओं की पक्की तैयारी करना चाहते हैं या अपने किसी भी एग्जाम के पूरे सिलेबस का कंप्लीट रिवीजन करना चाहते हैं तो तुरंत सफलता द्वारा चलाई जा रही फ्री Class को ज्वॉइन कर सकते हैं। जिसके लिए अभ्यर्थी अपने फोन पर अभी डाउनलोड Safalta-app करें। 

विस्तार

उत्तर प्रदेश के 58 शहरों से भी अधिक जिलों में आंगनवाड़ी, मिनी आंगनवाड़ी और सहायिका के पदों पर भर्तियां निकाली गई थीं। इन भर्तियों के लिए ऑनलाइन मोड में आवेदन प्रक्रिया पूरी कराई जा चुकी है। भर्ती में आवेदन करने वाली महिला उम्मीदवारों को अब इसकी मेरिट सूची जारी किए जाने का इंतजार बना हुआ है। विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स में छपी खबरों से मिली जानकारी के अनुसार, अक्तूबर माह में इन पदों की मेरिट जारी कर दी जाएगी, जिसके बाद जल्द ही ग्रामीण इलाकों में बने आंगनवाड़ी केंद्रों में लंबे समय से खाली चल रहे आंगनवाड़ी, मिनी-आंगनवाड़ी व सहायिका पदों पर नियुक्ति कर दी जाएगी। इस मेरिट सूची को देखने के लिए यूपी बाल विकास पुष्टहार विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर विज़िट करते रहना चाहिए। साथ ही अगर आप  प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं तो ऐसे स्टूडेंट्स इन दिनों सफलता डॉट कॉम द्वारा FREE Current Affairs – Download Now चलाए जा रहे फ्री कोर्स का लाभ ले सकते हैं। इस कोर्स की मदद से उम्मीदवार अपने किसी भी एग्जाम का कंप्लीट रिवीजन और पक्की तैयारी कर सकते हैं। 

कब स्वयं ही बंद हो जाती हैं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की सेवाएं 

आंगनवाड़ी भर्ती के लिए जारी किए गए आधिकारिक नोटिफिकेशन के मुताबिक यदि किसी आवेदक की नियुक्ति के बाद आयु सीमा 62 वर्ष पूरी हो जाती है तो ऐसी स्थिति में उनकी मानदेय और सेवाएं स्वत: समाप्त हो जाएंगी। 

मेरिट के आधार पर होगा चयन, ऐसे बनेगी मेरिट 

अगर आपने भी यूपी आंगनवाड़ी भर्ती के लिए आवेदन किया है तो आपको इसके चयन प्रक्रिया के बारे में सारी जानकारी नीचे दिए गए बिंदुओं के द्वारा आसानी से समझ सकते हैं। 

अगर दो उम्मीदवारों की दसवीं के अंकों में समानता पाई जाती है तो ऐसी स्थिति में उच्च शैक्षणिक योग्यता वाले उम्मीदवार को वरीयता दी जाएगी। 
वह अभ्यर्थी जो आगनवाड़ी केंद्र की पंचायत के अंतर्गत निवास करता होगा उसे अन्य उम्मीदवारों की तुलना में प्राथमिकता दी जाएगी। 

अगर किन्हीं दो उम्मीदवारों की शैक्षिक योग्यता, निवास स्थान भी समान पाए जाते हैं तो ऐसे उम्मीदवारों में से जिसकी आयु सीमा अधिक होगी, उसे वरीयता प्रदान की जाएगी। 

कैसे शुरू करें तैयारी 

अगर आप भी घर पर रहकर अपनी प्रतियोगी परीक्षाओं की पक्की तैयारी करना चाहते हैं या अपने किसी भी एग्जाम के पूरे सिलेबस का कंप्लीट रिवीजन करना चाहते हैं तो तुरंत सफलता द्वारा चलाई जा रही फ्री Class को ज्वॉइन कर सकते हैं। जिसके लिए अभ्यर्थी अपने फोन पर अभी डाउनलोड Safalta-app करें। 

%d bloggers like this: