Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

उर्वरक जागरूकता कार्यक्रम एवं कृषक वैज्ञानिक परिचर्चा का आयोजन

कोण्डागांव जिला में 11 अक्टूबर 2021 को आजादी का अमृत महोत्सव अंतर्गत उर्वरकों में प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) प्रणाली के पांच वर्ष पूर्ण होने पर उर्वरको के सतत् संतुलित उपयोग हेतु एक दिवसीय ’’उर्वरक जागरूकता कार्यक्रम एवं कृषक वैज्ञानिक परिचर्चा’’ का आयोजन कृषि विज्ञान केन्द्र, कृषि विभाग, बालाजी फास्फेट ग्रुप, ओस्तवाल ग्रुप ऑफ इण्डस्ट्रीज, जिला सहकारी बैंक के संयुक्त तत्वाधान में किया गया, जिसके मुख्य अतिथि श्री देेवचंद मतलाम जिला पंचायत अध्यक्ष कोंडागॉव  द्वारा जिले के कृषकों को मृदा की स्वास्थ्य की रक्षा करने के लिए उर्वरको व जैविक खाद का संतुलित उपयोग करने को कहा व केंचुआ खाद के उत्पादन को सराहा । श्री डी.के. रामटेके, उपसंचालक कृषि ने उर्वरकों के प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण  (डीबीटी), पीओएस एवं डिजीटल ट्रांजेक्शन द्वारा उर्वरकों की खरीदी के बारे में जानकारी प्रदान की । डॉ. ओमप्रकाश वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख, कृषि विज्ञान केन्द्र कोण्डागांव द्वारा एकीकृत समन्वित पोषक प्रबंधन की जानकारी कृषको को दी व फसलो पर सिंगल सुपर फॉस्फेट उर्वरक के उपयोग एवं उसके महत्व, उर्वरको के लागत को कम करने के बारे में विस्तार से बताया। डाॅ. हितेश मिश्रा वैज्ञानिक ने मृदा स्वास्थ्य कार्ड के आधार पर ही खाद एवं उर्वरकों के संतुलित उपयोग के लिए कहा जिससे कि पौधों को उचित पोषक तत्व मिलने के साथ वातावरण एवं मनुष्यों के स्वास्थ्य पर प्रतिकुल प्रभाव ना पड़े। कार्यक्रम में श्री राम सिंह बालाजी फास्फेट ग्रुप मैनेजर रायपुर द्वारा शासकीय अनुदान को कृषकों को डी.बी.टी. माध्यम से सीधे लाभ देने के बारे में विस्तार से चर्चा किया गया। कृषक वैज्ञानिक परिचर्चा में असंतुलित उर्वरकों के उपयोग से फसलों पर विपरीत प्रभाव, मृदा स्वास्थ्य सुधार एवं फसल पोषण में मिटटी परीक्षण का महत्व, जैव उर्वरकों द्वारा बीज उपचार, हरी खाद का उपयोग, केंचुआ खाद, नाडेप कम्पोस्ट का उपयोग, मौसम पूर्वानुमान का कृषि कार्यो में महत्व इत्यादि विषयों पर कृषकों से चर्चा हुई। इस कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि श्रीमती प्रमीला मरकाम सभापती कृषि स्थाई समिती एवं सुश्री मनीता नेताम, जिला पंचायत सदस्य शामिल रही तथा  फैज मोहम्मद खान नोडल जिला सहकारी बैंक, श्री रितेश चैकसे ओस्तवाल ग्रुप ऑफ इण्डस्ट्रीज मैनेजर रायपुर, श्री तिलकचंद पटेल जिला विपणन कार्यालय के साथ-साथ जिले के सभी विकासखंड से 110 किसानों ने सक्रिय रूप से भाग लिया।

%d bloggers like this: