Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

UP: अवैध वसूली करने वाले दो फर्जी एआरटीओ गिरफ्तार, गिरोह में शामिल छह अन्य मौके से फरार

भदोही पुलिस की गिरफ्त में बैठे दो फर्जी एआरटीओ।

उत्तर प्रदेश के भदोही में जीटी रोड पर वाहनों से अवैध वसूली करने वाले दो फर्जी एआरटीओ को औराई कोतवाली पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। उनके छह अन्य साथी मौके से फरार हो गए। आरोपियों के पास से एक कार, तीन मोबाइल और 15 हजार रुपये बरामद हुए।

पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने बुधवार को पुलिस लाइन में प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग और मिर्जापुर-भदोही मार्ग पर एआरटीओ बनकर ट्रक के कागजों को चेक करने और ओवरलोड ट्रकों को पार कराने वाले गिरोह द्वारा अवैध वसूली की शिकायत मिली थी। मंगलवार रात पर औराई कोतवाली पुलिस ने श्रीजी ढाबा उगापुर के पास ट्रक चालक से पैसा वसूलते दो लोगों को पकड़ लिया। ट्रक चालक ने बताया कि साहब ये लोग अपने को एआरटीओ का आदमी बताकर गाड़ी पास कराने के नाम पर हर गाड़ी से 500 रुपये प्रति चक्कर लेते हैं। दोनों आरोपियों से पूछताछ की गई तो कुछ दूरी खड़ी ब्रेजा कार की तरफ संकेत किया।

पुलिस उधर बढ़ी तो तीन व्यक्ति कार के पास खड़ी मोटरसाइकिलों पर बैठकर उगापुर बाजार की ओर जबकि तीन अन्य अंधेरे में पैदल ही भाग निकले। गिरफ्तार आरोपी आशीष कुमार मिश्र ने बताया कि सोनभद्र, मिर्जापुर, भदोही, जौनपुर आदि जिलों में खनन विभाग और एआरटीओ की लोकेशन लेकर ट्रक चालकों व मालिकों से संपर्क कर ट्रक पास कराते हैं।

पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने बताया कि आशीष कुमार मिश्र निवासी पट्टीनाथराम मेजा प्रयागराज और रोहित दूबे गोपालपुर राजापुर मिर्जापुर के खिलाफ कई धाराओं में केस दर्ज कर जेल भेजा गया है। जबकि फरार आरोपी धनंजय मिश्रा निवासी ज्ञानपुर, सुनील तिवारी निवासी त्रिलोकपुर, मुन्ना दुबे, सूर्यकांत तिवारी निवासी अरगी सरपती थाना विंध्याचल, अन्नू पांडेय निवासी रमई पट्टी मिर्जापुर, अनूप दूबे उर्फ झुंडी दूबे निवासी पथरहिया, मिर्जापुर की गिरफ्तारी के लिए टीम लगाई गई है।

%d bloggers like this: