June 21, 2021

Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

दुग्ध कृषकों का बकाया दुग्ध मूल्य भुगतान तत्काल 10 दिनों में कराने हेतु विशेष अभियान चलाया जाए

उत्तर प्रदेश सरकार के पशुधन, मत्स्य एवं दुग्ध विकास मंत्री श्री लक्ष्मी नारायण चैधरी ने आज निर्देश दिए कि सभी दुग्ध संघों पर दुग्ध कृषकों का बकाया दुग्ध मूल्य भुगतान उन्हें तत्काल 10 दिवस में करने हेतु विशेष अभियान चलाया जाए। उन्होंने कहा कि कृषकों के दुग्ध मूल्य भुगतान को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए और विभिन्न दुग्ध संघों को शासन स्तर से सुदृढ़ीकरण मद में जो वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई जाती है वह तत्काल उपलब्ध करा दी जाए जिससे दुग्ध मूल्य भुगतान सुनिश्चित हो सके।
दुग्ध विकास मंत्री आज यहां विधान भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष में दुग्ध मूल्यों के भुगतान की स्थिति की समीक्षा कर रहें थे। उन्होंनें विभागीय अधिकारियों को सख्त रूप से निर्देशित किया कि तरल दुग्ध एवं दुग्ध उत्पाद विक्रय से प्राप्त होने वाली राशि से सर्वोच्च प्राथमिकता पर कृषकों के दुग्ध मूल्य का भुगतान करने के उपरांत ही शेष राशि का उपयोग अन्य प्रशासनिक मद में किया जाए। साथ ही पीसीडीएफ द्वारा विभिन्न दुग्ध संघों द्वारा बाल विकास एवं पुष्टाहार की आपूर्ति के दौरान किए गए कार्यों के सापेक्ष देय धनराशि उन्हें तत्काल उपलब्ध करा दी जाए जिसका प्रयोग कृषकों के दुग्ध मूल्य भुगतान में दुग्ध संघ द्वारा किया जाएगा।
दुग्ध विकास मंत्री ने बकाया दुग्ध मूल्य भुगतान की संपूर्ण वस्तुस्थितियों की गहन तथ्यात्मक समीक्षा के दौरान कहा कि विभिन्न दुग्ध संघों में दुग्ध निर्मित उत्पादों की बड़ी मात्रा स्टॉक में पड़ी है जिसका वितरण करके कृषकों के दुग्ध मूल्य का भुगतान किया जा सकता है। इसके लिए उन्होंनें प्रबंध निदेशक पीसीडीएफ द्वारा स्वयं इसकी समीक्षा करते हुए अधिकतम 1 सप्ताह में विपणन योग्य स्टाफ को कार्य योजना बनाकर निस्तारित कराये जाने और प्राप्त मूल्य धनराशि से कृषकों के दुग्ध मूल्य का भुगतान सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। समीक्षा बैठक में प्रमुख सचिव दुग्ध विकास विभाग, श्री सुधीर गर्ग ने मंत्री जी को कृषकों के दुग्ध मूल्य भुगतान सुनिश्चित किए जाने एवं आवश्यक कार्यवाही किए जाने का आश्वासन दिया।
समीक्षा बैठक में दुग्ध आयुक्त, उत्तर प्रदेश श्री शशि भूषण लाल सुशील, प्रबंध निदेशक पीसीडीफ श्री वीरेंद्र कुमार तथा विशेष सचिव, दुग्ध श्री रवि शंकर गुप्ता सहित अन्य वरिष्ठ विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

%d bloggers like this: