Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

Kanpur Panchayat Election Result: जिला पंचायत सदस्यों में त्रिकोणीय मुकाबला, BJP समर्थित प्रत्याशियों को SP और BSP से मिल रही टक्कर

Kanpur Panchayat Election Result: जिला पंचायत सदस्यों में त्रिकोणीय मुकाबला, BJP समर्थित प्रत्याशियों को SP और BSP से मिल रही टक्कर

कानपुरकानपुर में जिला पंचायत सदस्यों का चुनावी परिणाम सोमवार शाम तक स्पष्ट हो जाएगा। कांउटिंग स्थल से आने वाले रुझानों ने सियासी दलों का पारा जरूर बढ़ा दिया है। कानपुर में 32 जिला पंचायत सदस्यों के वोटों की गिनती जारी है। रुझानों में बीजेपी, एसपी और बीएसपी समर्थित प्रत्याशियों के बीच कांटे की टक्कर है, यह मुकाबला एक तरफा नहीं, बल्कि त्रिकोणीय प्रतीत हो रहा है। जिला पंचायत सदस्य का परिणाम अभी घोषित नहीं हुआ है, लेकिन जिला पंचायत अध्यक्ष के कयास अभी से लगने लगे हैं।रविवार को शुरू हुई त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की कांउटिंग सोमवार को भी जारी है। मतगणना स्थल पर बड़ी संख्या में समर्थकों की मौजूदगी में गिनती चल रही है। बीजेपी का दावा है कि जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए बहुमत के आकड़े को आसानी से पार कर जाएगी, जबकि एसपी और बीएसपी कई सीटों पर मजबूत पकड़ बनाए हुए है। इसके साथ ही निर्दलीय प्रत्याशी भी पीछे नहीं है। कानपुर में जिला पंचायत सीट के लिए 399 प्रत्याशी चुनावी मैदान है।इन जगहों पर चल रही कांटे की टक्करकानपुर के कई जिला पंचायत सीटों पर कांटे की टक्कर चल रही है। सिकठिया से बीजेपी कमलेश निषाद को समर्थन दिया है, लेकिन पार्टी से बगावत करने वाले अखिलेश सिंह आगे चल रहे हैं। इसके साथ ही एसपी से प्रेमरण बहादुर और अपना दल के उमेश शुक्ला भी लड़ाई में बने हुए हैं। पाली भोगीपुर सीट से एसपी की आशा रावत और बीजेपी के रविराज के बीच कांटे की टक्कर है। नर्वल सीट से एसपी के मनोज कुमार यादव आगे चल रहे हैं, उनकी टक्कर बीएसपी के विवेक कुमार से है। इसके साथ ही बीजेपी के सूर्यप्रकाश तिवारी भी लड़ाई में बने हुए हैं। यही सरसौल सीट भी है। सरसौल में एसपी के समर्थक बीजेपी के समर्थक से आगे चल रहे हैं।कैबिनेट मंत्री रहीं स्वर्गीय कमलरानी वरुण की बेटी आगेउत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री रही कमलरानी वरुण के बेटी स्वप्निल वरुण गिरशी सीट से बढ़त बनाए हुए हैं। वहीं, पड़री लालपुर से बीजेपी की पूनम शंखवार पीछे चल रही हैं। कठारा से विजय लक्ष्मी वर्मा विरोधी सोनी देवी पर बढ़त बनाए हैं। बिधनू की रमईपुर सीट से दिनेश कुमार अपने विरोधी अपनू से आगे चल रहे हैं।घिमऊ जिला पंचायसीट पर कुख्यात अपराधी विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे जिला पंचायत सदस्य रही थी। विकास की मौत के बाद इस बार चुनाव में निर्दलीय अवकाश सिंह उर्फ अंशुल सबसे आगे चल रहे हैं, लेकिन एसपी के रामकरण यादव उन्हे टक्कर दे रहे हैं।