Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

मुख्तार के बाद अब अतीक अहमद को यूपी लाने की तैयारी

atiq ahmed

अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज
Published by: विनोद सिंह
Updated Thu, 08 Apr 2021 10:27 PM IST

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

मुख्तार अंसारी के बाद अब अतीक अहमद को भी प्रदेश में वापस लाने की कवायद शुरू हो गई है। पुलिस विभाग में इस बात की सुगबुगाहट तेज है। अतीक के करीबियों में भी इस बात की चर्चा जोरों से है। देवरिया कांड के बाद अतीक को सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अहमदाबाद जेल में भेजा गया था। तबसे अतीक वहीं पर है। माना जा रहा है कि अतीक ने वहां पर भी सेटिंग कर ली है। यहां तक कि वह जेल में मोबाइल का भी प्रयोग कर रहा है। इस बात की सूचना शासन तक पहुंची है। इसके बाद से ही उसे वापस लाने की सुगबुगाहट तेज हो गई है। अतीक अहमद अहमदाबाद जेल में बंद है। शासन को सूचना मिली है कि अतीक की वहां भी सेटिंग हो गई है। उसके तमाम लोग छोटी-मोटी धाराओं में अहमदाबाद जेल में बंद हैं। तमाम लोग प्रयागराज से जाकर वहां रह भी रहे हैं। अतीक जेल से ही अपने करीबियों से बात भी कर रहा है। तमाम बातें शासन तक पहुंचीं तो गुपचुप इसकी जांच भी कराई गई। पुलिस विभाग में सुगबुगाहट है कि जांच रिपोर्ट में भी इन्हीं सब बातों का जिक्र है। शासन अब जल्द ही अतीक की वापसी पर विचार कर रहा है।सूत्रों का कहना था कि अगर जरूरत पड़ी तो कोर्ट में एप्लीकेशन देकर अपील की जाएगी। मुख्तार को जिस तरह से प्रदेश सरकार पंजाब से ले आई है, उससे अतीक के करीबियों को भी लगता है कि उसे भी जल्द यहां लाया जाएगा। इस बारे में पूछने पर कोई भी अधिकारी मुंह खोलने को तैयार नहीं है। सभी का कहना है कि यह शासन स्तर का मामला है। वे इस पर कुछ भी नहीं कह सकते।  

मुख्तार अंसारी के बाद अब अतीक अहमद को भी प्रदेश में वापस लाने की कवायद शुरू हो गई है। पुलिस विभाग में इस बात की सुगबुगाहट तेज है। अतीक के करीबियों में भी इस बात की चर्चा जोरों से है। देवरिया कांड के बाद अतीक को सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अहमदाबाद जेल में भेजा गया था। तबसे अतीक वहीं पर है। माना जा रहा है कि अतीक ने वहां पर भी सेटिंग कर ली है। यहां तक कि वह जेल में मोबाइल का भी प्रयोग कर रहा है। इस बात की सूचना शासन तक पहुंची है। इसके बाद से ही उसे वापस लाने की सुगबुगाहट तेज हो गई है।

 अतीक अहमद अहमदाबाद जेल में बंद है। शासन को सूचना मिली है कि अतीक की वहां भी सेटिंग हो गई है। उसके तमाम लोग छोटी-मोटी धाराओं में अहमदाबाद जेल में बंद हैं। तमाम लोग प्रयागराज से जाकर वहां रह भी रहे हैं। अतीक जेल से ही अपने करीबियों से बात भी कर रहा है। तमाम बातें शासन तक पहुंचीं तो गुपचुप इसकी जांच भी कराई गई। पुलिस विभाग में सुगबुगाहट है कि जांच रिपोर्ट में भी इन्हीं सब बातों का जिक्र है। शासन अब जल्द ही अतीक की वापसी पर विचार कर रहा है।

सूत्रों का कहना था कि अगर जरूरत पड़ी तो कोर्ट में एप्लीकेशन देकर अपील की जाएगी। मुख्तार को जिस तरह से प्रदेश सरकार पंजाब से ले आई है, उससे अतीक के करीबियों को भी लगता है कि उसे भी जल्द यहां लाया जाएगा। इस बारे में पूछने पर कोई भी अधिकारी मुंह खोलने को तैयार नहीं है। सभी का कहना है कि यह शासन स्तर का मामला है। वे इस पर कुछ भी नहीं कह सकते।