Lok Shakti.in

Nationalism Always Empower People

UP Coronavirus Update: बेकाबू होते कोरोना पर CM योगी सख्त- ‘भीड़ वाली जगहों पर चालान करें, न सुधरें तो सील कर दें’

UP Coronavirus Update: बेकाबू होते कोरोना पर CM योगी सख्त- 'भीड़ वाली जगहों पर चालान करें, न सुधरें तो सील कर दें'

हाइलाइट्स:उत्‍तर प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना मामलों पर सीएम योगी सख्‍त अफसरों से कहा- भीड़भाड़ पर रोक लगाएं, न मानें लोग तो करें चालान जल्‍द ही काशी, प्रयागराज और गोरखपुर का औचक दौरा करेंगे योगी लखनऊ महाराष्‍ट्र, पंजाब के साथ-साथ उत्‍तर प्रदेश में भी कोरोना वायरस संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इसके मद्देनजर सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने सख्‍ती दिखाई है। उन्‍होंने अफसरों को भीड़भाड़ वाली जगहों पर कड़ाई करने का आदेश दिया है। बुधवार को कोरोना प्रभावित 13 जिलों की वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग से समीक्षा करते हुए योगी ने कहा कि मास्‍क न लगाने वालों पर जुर्माना लगाएं। भीड़भाड़ वाली जगहों पर लोग मानने को न तैयार हों तो उनका चालान करें और दुकानें सील कर दें।समीक्षा बैठक में योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि जिन जिलों में 500 से ज्‍यादा कोरोना संक्रमण के केस हैं, वहां के डीएम अगर चाहें तो रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा सकते हैं। लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर नगर, गोरखपुर, मेरठ, नोएडा, झांसी, बरेली, गाजियाबाद, आगरा, सहारनपुर और मुरादाबाद में कोविड संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। यहां केसों की संख्या अधिक है। हालांकि पॉजिटिविटी दर में गिरावट हुई है। सीएम ने यहां कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग बढ़ाने और जरूरत के अनुसार ट्रीटमेंट पर जोर दिया है। प्रयागराज, काशी और गोरखपुर का औचक दौरा करेंगे योगीयोगी ने कहा कि निगरानी समितियों और इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर की उपयोगिता बढ़ाई जाए। पब्लिक एड्रेस सिस्टम का ज्‍यादा प्रयोग किया जाए। उन्‍होंने इन सभी 13 जिलों में निगरानी के लिए तत्काल विशेष सचिव स्तर के अधिकारियों की तैनाती का निर्देश दिया है। उन्‍होंने कहा कि चिकित्सा और स्वास्थ्य मंत्री व चिकित्सा शिक्षा मंत्री अधिकारियों के साथ इन जिलों का दौरा करें। स्थिति को देखें और व्यवस्था सुधार के लिए आवश्यक निर्देश दें। अगले कुछ दिनों में योगी प्रयागराज, वाराणसी और गोरखपुर जिलों के औचक निरीक्षण पर निकलेंगे। ‘महाराष्‍ट्र से आने वाले हैं लोग, गोरखपुर व अन्‍य जिलों में खास सतकर्ता’बैठक के दौरान सीएम ने कहा कि जिन जिलों में प्रतिदिन 100 से अधिक केस मिल रहे हैं या जहां कुल एक्टिव केस की संख्या 500 से अधिक है, वहां माध्यमिक विद्यालयों में छुट्टी के संबंध में डीएम स्थिति के अनुरूप निर्णय लें। उन्‍होंने कहा कि कुल कोविड टेस्ट में कम से कम 50 प्रतिशत टेस्ट आरटीपीसीआर तरीके से किए जाएं। रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट और बस अड्डे पर रैपिड एन्टीजन टेस्ट की व्यवस्था को और प्रभावी किया जाए। अगले कुछ दिनों में महाराष्ट्र आदि प्रदेशों से विशेष ट्रेन भी संचालित होगी। ऐसे में गोरखपुर, गोंडा, बस्ती व आसपास के क्षेत्रों में खास सतर्कता बरते जाने की जरूरत है।योगी की समीक्षा बैठक